ओपिनियन पोस्टएम वेंकैया नायडू ने आज यहां देश के 13वें उपराष्ट्रपति पद की शपथ ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें राष्ट्रपति भवन में शपथ दिलाई। वहीं नायडू ने राज्यसभा के सभापति के रूप में पदभार संभाल लिया है। बतौर उपराष्ट्रपति अपना उन्होंने अपना पहला भाषण भी दिया। ओपिनियन पोस्ट राज्यसभा में पक्ष विपक्ष के नेताओ ने उनका अभिनंदन किया ।

मोदी ने की तारीफ
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि वेंकैया ऐसे पहले उपराष्ट्रपति बने हैं, जो इतने वर्षों तक इन्हीं लोगों के बीच पले-बढ़े। नायडू कैबिनेट में भी गांव और किसान की बात करते थे। आज सर्वोच्च पदों पर सामान्य घरों के लोग आसीन हुए हैं। नायडू किसान के बेटे हैं और गांव को भली-भांति जानते हैं। वह जेपी आंदोलन से भी जुड़े रहे। पीएम ने कहा कि देश को पहले ऐसे उपराष्ट्रपति मिले, जो सदन की बारीकियों से वाकिफ हैं। नायडू पहले ऐसे उपराष्ट्रपति हैं, जो आजाद भारत में पैदा हुए।

एम ने गिनाईं नायडू की उपलब्धियां
पीएम ने कहा कि नायडू कैबिनेट  में भी गांव और किसान की बात करते थे। आज सर्वोच्च पदों पर सामान्य घरों के लोग आसीन हुए हैं। आज हमने गौरवपूर्ण जिम्मेदारी वेंकैया नायडू को दी। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना का तोहफा नायडू ने ही दिय। इसके अलावा कांग्रेस नेता गुलाब नबी आजाद ने पदभार संभालने के लिए नायडू को बधाई दी।

PunjabKesari
नायडू ने हिंदी में ली शपथ
नायडू ने हिंदी में उपराष्ट्रपति पद की शपथ ली। राष्ट्रपति भवन की ओर से आयोजित शपथ समारोह में हिस्सा लेने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृहमंत्री राजनाथ और पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह भी राष्ट्रपति भवन पहुंचे।

READ  केदारनाथ जाते वक्त हेलीकॉप्टर क्रैश, 5 लोग ज़ख्मी