india

क़द्दावर चेहरों के बीच आर-पार की लड़ाई

2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा के अश्विनी चौबे ने जगदानंद सिंह को एक लाख से अधिक वोटों से पराजित किया था. इस बार भी दोनों के बीच कड़ा मुकाबला माना जा रहा है. पिछले लोकसभा चुनाव में बसपा के ददन पहलवान...

भगवा हुआ ब्रह्मपुत्र का पानी

असम पूर्वोत्तर भारत के इस राज्य में भाजपा ने साल 2014 के लोकसभा चुनाव के दौरान सेंध लगाना शुरू कर दिया था. पूर्वोत्तर में साल 2014 के पहले भाजपा का कोई बड़ा आधार नहीं था, लेकिन उसने धीरे-धीरे यहां अपन...

कांग्रेस का बढ़ा वोट आप क्लीन बोल्ड

दिल्ली दिल्ली की राजनीति ने फिर करवट ली. भाजपा ने अपना पिछला प्रदर्शन दोहराया और आम आदमी पार्टी की सारी संभावनाओं पर पानी फेर दिया. दिल्ली में आम आदमी पार्टी ने सबसे पहले अपने उम्मीदवारों की घोषणा की...

बाबुओं की समीक्षा

मोदी सरकार नौकरशाही को सुव्यवस्थित और गतिरोध दूर करने के लिए काम कर रही है. सूत्रों का कहना है कि पिछले चार सालों के दौरान यानी 2015 और 2018 के बीच केंद्र ने 1100 से अधिक आईएएस अधिकारियों के सर्विस रि...

मलाइका ने कहा आइटम बोले तो थप्पड़ पड़ेगा

अमूमन फिल्मों के बोरिंग पाट्र्स को जबरदस्ती रोचक बनाने के लिए आइटम सॉन्ग का प्रयोग होता है और इस बहाने फिल्म मेकर्स अपनी चहेती एक्ट्रेस को एक गाने में कास्ट करके दोस्ती का यदाकदा सुबूत भी देते रहते है...

काले हैं, तो क्या हुआ…

कई साल हो गए. अब्बास मस्तान की फिल्म ‘अजनबी’ की शूटिंग चल रही थी. फिल्म में करीना कपूर थीं और बिपाशा बसु का डेब्यू हो रहा था, तभी कुछ कैट फाइट टाइप हुआ और करीना ने बिपाशा को ‘काली बिल्ली’ कह दिया. सब...

मोदी का तूफान और न्याय का दीया

चुनावी राजनीति के अखाड़े में तार-तार होती मर्यादा ने इस बार पूरी तरह जता दिया कि उसने राजनेताओं की सहोदर होना छोड़ दिया है. जनसभाओं एवं रैलियों में लोगों को रिझाने के लिए राजनेताओं ने एक-दूसरे पर जिस...

भारी-भरकम जीत के अपने-अपने दावे

चुनावी कारवां गुजर चुका है, अब फिजां में सिर्फ गुबार ही गुबार है. आम जन को २३ मई का इंतजार है, जब ईवीएम नतीजे देना शुरू करेगी. हालांकि, मैदान में निकटतम प्रतिद्वंद्वी रहे बीजद और भाजपा ने अभी से एक-दू...

कैप्टन मार्वल भी सेफ नहीं

जब ‘कैप्टन मार्वल’ रिलीज हुई, तो किसी ने भी नहीं सोचा था कि एक फीमेल लीड के साथ सुपर हीरोज वाली यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर कोई कमाल दिखा पाएगी, लेकिन जब इसने कमाई के कई रिकॉर्ड तोड़े, तो लगा कि सिनेमा की...

एक दुकान, हर समाधान

अफागर वे मुकदमे जिता सकते हैं, तो देश में व्याप्त बेरोजगारी क्यों नहीं दूर कर देते? अपराधियों का सया क्यों नहीं कर देते? नक्सलियों पर अपना जादू क्यों नहीं चलाते कि वे असलहे छोडक़र तेंदू पत्ते से बीड़ी...

×