हिंद महासागर में घुसे चीन के 3 जंगी जहाज

ओपिनियन पोस्ट
Wed, 18 Apr, 2018 19:28 PM IST

नई दिल्ली।

भारत और चीन के बीच हिंद महासागर में वर्चस्व को लेकर चल रही रस्साकशी ने रोचक मोड़ ले लिया है। समुद्र के चप्पे-चप्पे पर भारतीय नौसेना ने अपनी मौजूदगी का नमूना पेश करते हुए एक खास अंदाज में चीन की नौसेना का स्वागत कर उसे चौंका भी दिया और आगाह भी कर दिया। दरअसल, मंगलवार को चीन का एक बेड़ा जैसे ही अम्बई वतार समुद्री इलाके में पहुंचा,  भारतीय नौसेना ने ‘आपका स्वागत है’ कहकर उसे हैरत में डाल दिया।

नौसेना ने ट्वीट किया, ‘पीएलए-नेवी की 29वीं ऐंटी-पाइरेसी एस्कॉर्ट फोर्स का हिंद महासागर क्षेत्र में स्वागत है। हैपी हंटिंग।’ चीन की पीपल्स लिबरेशन आर्मी की नेवी के तीन युद्धपोत नजर आए थे। हालांकि चीन ने इस पर सफाई देते हुए कहा है कि उसने अपने युद्धपोतों को पाइरेसी को देखते हुए वहां तैनात किया था। इसका मुख्य लक्ष्य हिंद महासागर क्षेत्र में रिसर्च के लिए बेस तैयार करना है।

भारतीय नौसेना ने इसके अलावा एक ट्वीट कर बताया कि हम 24 घंटे सजग और तैयार हैं। इसी के साथ भारतीय नौसेना ने युद्धपोतों की तैनाती का नक्शा भी जारी किया है। भारतीय नौसेना ने ट्वीट किया, ‘फारस की खाड़ी से मलक्का स्ट्रेट और उत्तर में बंगाल की खाड़ी से दक्षिणी हिंद महासागर तक और अफ्रीका के पूर्वी छोर तक हम 24 घंटे निगरानी कर रहे हैं। अपने एरिया को हर समय, हर तरह से सेफ रखने के लिए हम सक्षम हैं।’

बता दें कि नौसेना प्रमुख एडमिरल सुनील लांबा ने एक अंग्रेजी अखबार को दिए अपने इंटरव्यू में कहा था कि हाल के दिनों में हिंद महासागर में चीन की पनडुब्बियों एवं युद्धपोतों की हलचल में तेजी देखी गई है। लांबा ने कहा कि हिंद महासागर में चीनी नौसेना की गतिविधियों पर हम बारीकी से नजर रख रहे हैं और राष्ट्रीय सुरक्षा के किसी भी खतरे से निपटने के लिए हम पूरी तरह से तैयार हैं।

READ  आईये आपको बताते हैं क्या है सिंधु जल समझौता-
×