संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत को लेकर विवाद खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है। फिल्म के नाम में बदवाल होने के बबावजूद इस फिल्म का विरोध जारी है। 5 संशोधन के बाद फिल्म को सेंसर बोर्ड की हरी झंडी मिली। लेकिन कई राज्यों ने इसे बैन कर दिया है जिसमें राजस्थान, गुजरात और मध्य प्रदेश में फिल्म पर बैन लगा दिया है। अब हरियाणा सरकार ने राज्य में फिल्म पद्मावत की रिलीज पर रोक लगा दी है। हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने मंगलवार को फिल्म पर प्रतिबंध लगाने के बारे में ट्वीट किया।

हरियाणा कैबिनेट की एक बैठक में यह निर्णय लिया गया। मालूम हो कि राजस्थान, गुजरात, मध्यप्रदेश में प्रतिबंध के बीच फिल्म को उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और गोवा समेत कई राज्यों से हरी झंडी मिली है।

दीपिका पादुकोण अभिनीत यह फिल्म 16वीं सदी के सूफी कवि मलिक मुहम्मद जायसी के महाकाव्य ‘पद्मावत’ और राजपूत रानी पद्मावती पर आधारित है। पद्मावती और अलाउद्दीन खिलजी के बीच रुमानी सपने के दृश्य को लेकर फैली अफवाहों के बाद विभिन्न राजपूत एवं अन्य संगठनों ने इतिहास से छेड़छाड़ और जन भावनाओं से खिलवाड़ का आरोप लगाते हुए राजस्थान सहित देश के अन्य हिस्सों में फिल्म के विरोध में प्रदर्शन शुरू कर दिया था। इतिहासकार हालांकि इस बारे में एकमत नहीं हैं कि रानी पद्मावती का अस्तित्व था।

READ  ये हैं गोविंदा के बेटे यशवर्द्धन, फिल्मों में आने की कर रहे हैं तैयारी