अभिषेक रंजन सिंह, नई दिल्ली।  केंद्र सरकार द्वारा लागू किए गए बहुप्रतीक्षित आर्थिक सुधार जीएसटी यानी गुड्स एंड सर्विसेज टैक्स के बाद चीनी मीडिया प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की शान में लगातार कसीदे पढ़ रहा है। चीन की प्रमुख सरकारी मीडिया ‘ग्लोबल टाइम्स’ ने अपने एक आलेख में भारत द्वारा किए गए कर सुधारों की जमकर प्रशंसा की है। आलेख में कहा गया है कि जीएसटी लागू होने के बाद भारत में बड़े पैमाने पर विदेशी निवेश होंगे। साथ ही कारोबार और पूंजी निवेश की जटिलताएं खत्म होंगी। इससे भारत का वैश्विक स्तर पर आर्थिक महाशक्ति बनने का ख्वाब पूरा हो सकता है।

अपने आलेख में ‘ग्लोबल टाइम्स’ ने लिखा है कि विदेशी निर्माता कंपनियां आगे बढ़कर भारत में निवेश कर रहे हैं। इसकी वजह है मौजूदा केंद्र सरकार द्वारा किया गया ऐतिहासिक आर्थिक सुधार। इससे विदेशी निवेशकों का मनोबल बढ़ा है और उन्हें लगता है कि भारत में पूंजी निवेश करना सुरक्षित और फायदेमंद है।

अपने आलेख में चीनी सरकारी अखबार ‘ग्लोबल टाइम्स’ ने अपनी सरकार को मशविरा दिया है कि वह भारत के विकास और आर्थिक तरक्की पर सकारात्मक रुख अपनाएं। अखबार के मुताबिक, आर्थिक केंद्र के रूप में उभर रहे भारत से मुकाबले के लिए चीन को बेहद प्रभावी आर्थिक रणनीति बनानी होगी। ‘ग्लोबल टाइम्स’ के आलेख में इस बात का जिक्र किया गया है कि भारत का मौजूदा आर्थिक विकास दो दशक पूर्व चीन के आर्थिक विकास की याद दिलाता है। ग्लोबल टाइम्स अखबार के अनुसार, विदेशी पूंजी निवेश के इसी मॉडल से चीन को सफलता मिली। अब भारत भी इसी रास्ते पर लगातार आगे बढ़ रहा है, इसलिए उसकी कामयाबी भी लगभग तय है।
अखबार आगे लिखता है कि जीएसटी और इससे होने वाले आर्थिक फायदों को लेकर भले ही संशयात्मक की स्थिति दिख रही हो, लेकिन विदेशी कंपनियां भारत में अपने भविष्य को लेकर संतुष्ट हैं।

READ  पाकिस्‍तान की कई चौकियां तबाह, 10 रेंजर ढेर