सुनिल सौरभ

मगध से मिट गया कांग्रेस का नामोनिशान

कांग्रेस के कद्दावर नेता निखिल कुमार का टिकट भी क्षेत्रीय दलों के गठबंधन में काटकर दूसरे को दे दिया गया. निखिल मगध में कांग्रेस की साख बचाने की अंतिम उम्मीद थे. उनके पिता पूर्व मुख्यमंत्री सत्येंद्र न...

मगध (बिहार) : एनडीए और महागठबंधन में सीधी टक्कर

एनडीए के मजबूत गढ़ मगध के चार लोकसभा क्षेत्रों के राजनीतिक-सामाजिक समीकरण बदल गए हैं. 2014 के लोकसभा चुनाव में एनडीए, राजद-कांग्रेस और जदयू के बीच हुए त्रिकोणात्मक संघर्ष में चारों सीटों पर एनडीए को स...

नक्सलियों के निशाने पर नेता

चुनाव निकट आते ही नक्सली संगठनों की गतिविधियां बढ़ जाती हैं. बंदूक की नली से सत्ता की राह निकलने की बात करने वाले नक्सली हर बार चुनाव को रक्तरंजित करने का प्रयास करते हैं. लोकतंत्र के महापर्व में नक्स...

एनडीए के सामने सीटें बचाने की चुनौती

मगध के चार लोकसभा क्षेत्रों में विभिन्न राजनीतिक दल अपने गठबंधन की रणनीति के अनुसार चुनावी माहौल बनाने में जुटे हैं. इन सभी सीटों पर एनडीए का कब्जा है. गया सुरक्षित, नवादा एवं औरंगाबाद पर भाजपा का कब्...

वैश्य समाज को मान-सम्मान की दरकार

मौजूदा समय में राज्य के वैश्य नेताओं में सबसे बड़ा नाम है, समीर महासेठ. समीर मधुबनी से राजद विधायक हैं. उनके पिता पूर्व मंत्री स्वर्गीय राजकुमार महासेठ लंबे समय तक मधुबनी से विधायक रहे और उन्होंने वैश...

×