बीजेपी नेता और केन्द्रीय मंत्री अनंत कुमार का निधन हो गया है। बताया जा रहा है कि देर रात दो बजे उन्होने अंतिम सांस ली। वे 59 साल के थे। कुछ महीनों से कैंसर से पीड़ित थे। अक्टूबर में न्यूयॉर्क से इलाज कराकर लौटे थे। दोबारा तबीयत बिगड़ने पर उन्हें बेंगलुरु के एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया था। उन्हें वेंटिलेटर पर रखा गया था।  जिस समय अंनत का देहांत हुआ उस समय उनकी पत्नी तेजस्विनी और दोनों बेटियां भी वहां मौजूद थीं। अंनत कुमार के निधन पर कर्नाटक सरकार ने राज्य में तीन दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, प्रधानमंत्री मोदी, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी समेत तमाम हस्तियों ने अनंत कुमार के असामयिक निधन पर गहरा शोक जताया है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने लिखा, ‘केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार के निधन के बारे में सुनकर मुझे दुख हुआ। उनका जाना देश और खासकर कर्नाटक के लोगों के लिए बड़ा झटका है। उनके परिवार, सहकर्मी और उनसे जुड़े अनगिनत लोगों के साथ मेरी संवेदना है।’

कुमार के निधन पर शोक प्रकट करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘मैं अपने महत्त्वपूर्ण साथी एवं मित्र के निधन से बेहद दुखी हूं।’ उन्होंने कुमार को असाधारण नेता बताया, जो युवावस्था में ही सार्वजनिक जीवन में आए और काफी लगन और सेवा भाव से समाज की सेवा की।

READ  पाकिस्तान की ओर से सीजफायर का उल्लंघन, BSF के 4 जवान शहीद, 5 घायल