नोएडा में रहने वाली 15 साल की एक लड़की ने मंगलवार देर रात छत से कूदकर जान दे दी। लड़की के परिवालों का आरोप है कि स्कूल का अध्यापक उसे प्रताड़ित कर रहा था। प्रताड़ना और छेड़छाड़ से परेशान होकर उसने ऐसा किया। मयूर विहार फेज-3 के एक प्राइवेट स्कूल में नौवीं क्लास में पढ़ने वाली इस छात्रा ने नोएडा स्थित अपने घर पर खुदकुशी कर ली। आरोपी दो शिक्षकों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

पुलिस के मुताबिक लड़की के पिता ने कहा, “मेरी बेटी ने बताया था, कि उसके एसएसटी टीचर उसके साथ छेड़छाड़ करते हैं। मैंने उससे कहा कि ऐसा नहीं हो सकता, क्योंकि मैं भी एक टीचर हूं। मैंने उससे कहा कि गलती से ऐसा हुआ होगा। लेकिन मेरी बेटी काफी डरी हुई थी और उसने कहा कि मेरे टीचर मुझे फेल कर देंगे। आखिरकर ऐसा ही हुआ। एसएसटी में वो फेल हो गई। स्कूल की वजह से मेरी बेटी ने जान दे दी।”

पुलिस ने डेड बॉडी को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। डॉक्टर ने बताया कि मेरे पास जब तक लड़की को लाया गया उसके पल्स और बीपी काम नहीं कर रहे थे। हम लोगों ने उसे बचाने की हरसंभव कोशिश की। लेकिन हम नाकाम रहे।

डॉक्टर के मुताबिक, पोस्टमार्टम के बाद ही मौत के सही कारणों का पता चल पाएगा।

READ  श्रीनगर बांध से जनता त्रस्त