मैगज़ीन

मैगज़ीन

अपराधियों पर अंकुश राजनीतिक इच्छाशक्ति से ही संभव

आईआईएम, अहमदाबाद से सेवानिवृत्त और एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म और नेशनल इलेक्शन वॉच जैसी संंस्थाओं के संस्थापक सदस्य प्रोफेसर जगदीप छोकर से विशेष संवाददाता सुनील वर्मा ने राजनीति के अपराधीकरण व आ...

दागी बेशुमार, महिलाएं बेजार

सुनील वर्मा। देश के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर विपक्षी नेता भले ही सत्ताधारी पार्टी और पुलिस को कोसते हों लेकिन हकीकत यह है कि अपराधी तत्वों को पालने एवं उन...

कलिखो पुल की आत्महत्या पर उठ रहे सवाल

गुलाम चिश्ती/ एसएम महाराज। उच्चतम न्यायालय की ओर से अरुणाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री पद से अपदस्थ किए जाने और कांग्रेस सरकार बहाल होने के कई हफ्ते बाद वहां के पूर्व मुख्यमंत्री कलिखो पुल की आत्महत्या रहस...

जिरह- बातों से बात नहीं बनेगी

हिंदू समाज के दलित समुदाय ने हजारों साल वर्ण व्यवस्था का दंश झेला, इस मसले पर कोई मतभेद नहीं है। उस अत्याचार के प्रायश्चित स्वरूप देश के संविधान निर्माताओं ने आरक्षण की व्यवस्था की। जिस राजनीति ने आम...

माननीयों का मानमर्दन

प्रदीप सिंह (प्रधान संपादक/ ओपिनियन पोस्ट) देश का संविधान बनने के बाद उच्च सदन के रूप में राज्यसभा का गठन हुआ। इसके पहले सभापति बने तत्कालीन उप राष्ट्रपति सर्वपल्ली राधाकृष्णन। राज्यसभा की पहली बैठक क...

हेलीकॉप्टर सौदा : दूसरा बोफोर्स!

प्रदीप सिंह (प्रधान संपादक/ओपिनियन पोस्ट) । दुनिया में भ्रष्टाचार का शायद पहला मामला है जिसमें रिश्वत देने वाले जेल में हैं और रिश्वत लेने वाले खुले घूम रहे हैं। उनसे कोई सवाल भी नहीं पूछा जा रहा कि भ...

×