व्हाट्सऐप

एंड्राइड फ़ोन भारत में काफी पसंद किया जाता है और 80 फीसदी से ज़्यादा लोग एंड्राइड ऑपरेटिंग सिस्टम वाले फ़ोन ही इस्तेमाल करते हैं।डुअल सिम वाले फ़ोन भारत में बहुत पसंद किये जाते हैं और बड़े और छोटे शहर में सभी लोगों के पास ऐसे फ़ोन आपको मिल जाएंगे।कई बार लोग अपने काम और निजी नंबर को अलग रखते हैं और इसलिए व्हाट्सऐप भी अलग अलग रखने का प्रचलन बढ़ रहा है।ऐसा करने के लिए आपको थोड़ी मशक्कत करनी पड़ेगी और स्मार्टफोन की सेटिंग में थोड़ा बदलाव करना होगा।लेकिन एक बार आपने ये कर लिए तो एक ही डुअल सिम वाले स्मार्टफोन पर दो व्हाट्सऐप अकाउंट चला सकेंगे।

इसके लिए आपको डुअल सिम वाला स्मार्टफोन चाहिए और उस पर दो एक्टिव मोबाइल नंबर चाहिए। डेटा सर्विस एक पर भी एक्टिव हो तो ये दोनों आपके लिए काम करेंगे।सबसे पहले अपने व्हाट्सऐप पर जाइये और वहां पर ‘सेटिंग’ को चुनिये और फिर ‘चैट सेटिंग’ को चुनिये. इसके बाद ‘बैकअप चैट’ पर क्लिक कर दीजिये ताकि आपके सभी मैसेज का एक बैकअप तैयार हो जाए।अब समय है अपने स्मार्टफोन की ‘सेटिंग’ में जाने का और ‘सेटिंग’ में ही जो ‘ऐप’ का विकल्प है उसे चुन लीजिए. वहां पर व्हाट्सऐप को चुन लीजिए और ‘क्लियर डेटा’ के विक्लप पर क्लिक कर दीजिये और उसे ‘ओके’ कर दीजिये।अब अपने डिवाइस के फाइल एक्स्प्लोरर पर जाइये और व्हाट्सऐप फोल्डर में पहुंच जाइये. वहां पर ‘ऑप्शन’ पर क्लिक करके आप उसका नाम बदल कर ‘ओ जी व्हाट्सऐप’ रख दीजिये और फिर ओके पर क्लिक कर दीजिये।इसके बाद फिर से ‘सेटिंग’ में जाना होगा, उसके बाद ‘ऐप’ और फिर ‘व्हाट्सऐप’। इसके बाद और व्हाट्सऐप को अनइंस्टॉल कर दीजिये। इसके बाद ‘ओ जी व्हाट्सऐप’ को इस लिंक से डाउनलोड कर के इनस्टॉल कर लीजिए। इनस्टॉल करने के बाद इसे लॉन्च कर दीजिये। इनस्टॉल करते समय जो आप पहले मोबाइल नंबर इस्तेमाल कर रहे थे उसे लिख दीजिये। उसके बाद अपने पुराने चैट के बैकअप को आप रिस्टोर कर पाएंगे। अपनी सेटिंग को पूरा करने के बाद आपके पुराने नंबर का व्हाट्सऐप काम करने लगेगा।

READ  आपका गैजेट और बजट

अपने स्मार्टफोन के होमस्क्रीन पर आप ‘ओ जी व्हाट्सऐप’ नाम के दो आइकॉन देख सकेंगे। अब अपने स्मार्टफोन के दूसरे नंबर के लिए आपको गूगल प्लेस्टोर पर जाकर व्हाट्सऐप डाउनलोड कर के इनस्टॉल करना होगा। उसके बाद जब उसमे अपना नंबर देने के समय आएगा तो वहां अपना दूसरा नंबर एंटर कर दीजिये। हो सकता है आपके अपना वेरिफिकेशन कोड भी एंटर करना पड़े. अगर आप ये वेरिफिकेशन कोड नहीं चाहते हैं तो व्हाट्सऐप से कॉल का विकल्प भी चुन सकते हैं। ये कॉल के समय जो छह डिजिट का वेरिफिकेशन कोड आपको बताया जाता है उसे आपको एंटर करना होगा। उसके थोड़ी देर के बाद आपका दूसरे नंबर वाला व्हाट्सऐप काम करने लगेगा। दोनों व्हाट्सऐप नंबर के अकाउंट के आइकॉन अलग अलग होंगे।ये करने के बाद आप काम के नंबर और निजी नंबर के व्हाट्सऐप को अलग अलग कर सकते हैं।