आतंकवादियों के 55 लॉन्‍च पैड सक्रिय

ओपिनियन पोस्ट
Wed, 03 May, 2017 16:33 PM IST

नई दिल्ली।

उड़ी आतंकी हमले के बाद हुई सर्जिकल स्‍ट्राइक के बाद फिर से आतंकवादी घाटी में आजाद घूम रहे हैं। एलओसी पर आतंकियों के 55 कैंप और घाटी में 160 आतंकी घूम रहे हैं। एलओसी के दूसरी तरफ आतंकवादियों के 55 लॉन्‍च पैड को सक्रिय कर दिया गया है। सर्जिकल स्‍ट्राइक के बाद तो 20 नए आतंकी कैंप आतंकियों ने बना लिए हैं।

भारतीय सेना की ओर से सर्जिकल स्‍ट्राइक तो की गई लेकिन इस स्‍ट्राइक के बाद फिर से आतंकी घाटी में सक्रिय हो चुके हैं। भारत ने पाकिस्‍तान को करारा जवाब देने के मकसद से सर्जिकल स्‍ट्राइक का कदम उठाया था लेकिन अब ऐसा लगता है कि वह मकसद अब खत्‍म हो चुका है। पुंछ में पिछले दो दिनों में जो हुआ, उससे यह बात साफ हो जाती है।

पाकिस्तान समर्थित आतंकी संगठनों ने पाक कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) में नियंत्रण रेखा के आसपास कुकुर-मुत्तों की तरह आतंकी कैंप बना लिए हैं। पिछले सितंबर में सेना द्वारा पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक के बाद कम से कम 20 ऐसे नए कैंप बन गए हैं। इनसे भारत में आतंकियों को धकेला जाता है। भारत की सर्जिकल स्ट्राइक के बाद विभिन्न आतंकी संगठनों के सीमा पार बने 35 के आसपास कैंपों को हटा लिया गया था। उन्हें पीओके के अंदरूनी हिस्सों में शिफ्ट किया गया था।

खुफिया रिपोर्टो में कहा गया है कि पिछले चार माह में कम से कम 20 नए कैंप बन गए हैं और पहले बने कैंप फिर सीमा के पास आ गए हैं। इससे कैंपों की कुल संख्या बढ़कर 35 से 55 के बीच हो गई है। ये सारे कैंप सक्रिय ढंग से चल रहे हैं। चार माह में घुसपैठ के 60 प्रयास इस साल अब तक हो चुके हैं।

READ  जेएनयू में अब भी हैं अलगाववाद के निशां

इनमें 15 आतंकी जम्मू-कश्मीर में घुसने में कामयाब रहे हैं। फिलहाल कश्मीर घाटी में 160 आतंकी सक्रिय हैं। उनके पाक हैंडलरों ने उन्हें हमले तेज करने का निर्देश दिया है। उन्हें कश्मीर में उबाल लाने व सीमा पर तनाव फैलाने का जिम्मा सौंपा गया है।

सेनाध्यक्ष जनरल रावत ने किया एलओसी का दौरा

कृष्णा घाटी में वीभत्स हमले के बाद सोमवार शाम कश्मीर पहुंचे सेनाध्यक्ष जनरल बिपिन रावत ने मंगलवार को नियंत्रण रेखा के आसपास के इलाकों का दौरा किया। उन्होंने जवानों को अलर्ट रहने व किसी भी दुस्साहस को विफल रहने का निर्देश दिया। सेना प्रमुख ने जवानों को भरोसा दिलाया कि कश्मीर घाटी में देश की एकता,  अखंडता व शांति कायम रखने के लिए आपकी बहादुरी भरे प्रयासों में पूरा देश आपके साथ है।

×