देश की सबसे बड़ी कार निर्माता कंपनी मारुति सुजुकी ने सोमवार को अपनी नई स्विफ्ट और बलेनो की 50 हजार से ज्यादा यूनिट्स को वापस मंगवाया है। कंपनी ने 52,686 गाड़ियां वापस मंगवाने का फैंसला लिया है। कंपनी ने ब्रेक वैक्युम होज़ में खराबी के कारण यह फैसला लिया है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार जिन कारों को कंपनी ने वापस मंगाया है, उनका उत्पादन 1 दिसंबर 2017 से 16 मार्च 2018 के बीच किया गया है। इन कारों की मारुति सुजुकी के ‘सर्विस कैंपन’ के तहत जांच की जाएगी। कंपनी उपरोक्त समय के बीच में बनी कारों के ब्रेक बूस्टर की खराबी को चेक करेगी।

अगर कारों के ब्रेक बूस्टर्स में खराबी सामने आती है तो कंपनी की तरफ से इसकी फ्री में जांच की जाएगी। यह जांच 14 मई 2018 से शुरू होगी। इतना ही नहीं कारों में ब्रेक बूस्टर्स की खराबी होने पर इसे ग्राहक से बिना पैसे लिए रिप्लेस किया जाएगा। गौरतलब है कि इससे पहले भी दुनियाभर की कई कंपनियों की तरफ से कारों में कमी पता चलने के बाद वापस मंगाया गया था। ऐसे कारों को किसी फॉल्ट की आशंका से वापस मंगाया जाता है और कंपनी की तरफ से इसको फ्री में दुरुस्त किया जाता है।

READ  जीवन बीमा निगम ने 'बीमा  श्री' का नया प्लान लांच किया