मैक्कुलम ने अंतिम टेस्ट में सबसे तेज शतक का बनाया रिकॉर्ड

ओपिनियन पोस्ट
Sat, 20 Feb, 2016 16:16 PM IST

क्राइस्टचर्च।न्यूजीलैंड के कप्तान ब्रेंडन मैक्कुलम ने अपने आखिरी टेस्ट मैच में इतिहास रच दिया। क्राइस्टचर्च में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ खेले जा रहे दूसरे टेस्ट के पहले दिन मैक्कुलम ने मात्र 54 गेंदों में 16 चौकों और 4 छक्कों की मदद से टेस्ट इतिहास का सबसे तेज शतक ठोंक डाला। यह मैक्कुलम का 101वां टेस्ट है।

इससे पहले टेस्ट मैच में सबसे तेज शतक लगाने का रिकॉर्ड वेस्टइंडीज के सर विवियन रिचर्ड्स और पाकिस्तान के मिस्बाह उल हक के नाम था। दोनों ने 56 गेंदों में शतक लगाया था। रिचर्ड्स ने इंग्लैंड के ख़िलाफ1985-86 में एंटीगा में और मिस्बाह ने ऑस्ट्रेलिया के विरुद्ध 2014-15 में आबू धाबी में शतकीय पारियां खेली थीं।

Brendon-McCullum

सबसे ज्यादा छक्के का भी रिकॉर्ड
मैक्कुलम ने टेस्ट क्रिकेट में सर्वाधिक छक्कों के ऑस्ट्रेलिया के एडम गिलक्रिस्ट के रिकॉर्ड को भी तोड़ दिया। टेस्ट मैचों में उनके 100 से ज्यादा छक्के हो गए हैं। मैक्कुलम इस पारी में 79 गेंदों पर 145 रन बनाकर आउट हो गए। पैटिंसन ने उन्हें अपना शिकार बनाया। 145 रनों की अपनी पारी में उन्होंने 21 चौके और 6 छक्के लगाए।

कीवी कप्तान का यह 12वां टेस्ट शतक है। टेस्ट में उनके नाम एक तिहरा शतक भी है जो उन्होंने भारत के खिलाफ लगाया था। उन्होंने हाल ही में वनडे से भी संन्यास ले लिया है। 260 वनडे मैचों में उन्होंने 5 शतक लगाए हैं, जबकि टी-20 में उनके नाम 2 शतक हैं।

मैक्कुलम ने अपना अर्धशतक 34 गेंदों में पूरा किया और फिर अगले 50 रन मात्र 20 गेंदों पर बना डाले। मैक्कुलम ने 78 मिनट विकेट पर बिताते हुए शतक पूरा किया। समय के लिहाज से यह टेस्ट इतिहास का चौथा सबसे तेज शतक है। सबसे तेज शतक (समय के लिहाज से) का रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के जीएम ग्रेगरी के नाम है। ग्रेगरी ने 1921 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ मात्र 70 मिनट में सैकड़ा लगाया था। टेस्ट मैचों में भारत की ओर से सबसे तेज शतक का रिकॉर्ड कपिल देव के नाम दर्ज है। कपिल ने 1986-87 में कानपुर में श्रीलंका के खिलाफ 74 गेंदों पर शतक लगाया था।

READ  रियो ओलंपिक का रंगारंग समापन, अगला ओलंपिक टोक्यो में

 

 

×