मुंबई- महाराष्ट्र में भाजपा और शिवसेना के तकरार बढ़ गयी है। भाजपा की अगुवाई वाली सरकार में शिवसेना के कुछ मंत्री इस्तीफा दे सकते हैं। क्योंकि शिवसेना मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़नवीस से नाराज है। लिहाजा वह इस्तीफा देकर भाजपा पर राजनैतिक दबाव बनाना चाहती है।

असल में पिछली कुछ घटनाओं के कारण सरकार की महाराष्ट्र ही नहीं बल्कि पूरे देश में किरकिरी हुई है। और यह सब शिवसेना क कारण हुआ है। पहले शिवसेना ने पाकिस्तानी गायक गुलाम अली के कार्यक्रम का विरोध किया और सोमवार को पाकिस्तानी लेखक की पुस्तक विमोचन से पहले सुधीन्द्र कुलकर्णी पर कालिख पोत दी। इसके कारण सरकार की छवि जनता में खराब हुई है। राज्य में स्थानीय निकायों के चुनाव होने हैं।

अगर शिवसेना कोटे के मंत्री इस्तीफा देते हैं तो इससे बीजेपी में सख्त संदेश जाएगा। इसे एक तरह से दबाव की राजनीति की तरह देखा जा रहा है। हालांकि इस बारे में शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ही फैसला करेंगे।

READ  साफ होगा पीके का पत्ता