वस्त्र उद्योग की समस्याओं का समाधान करेगी सरकार : स्मृति ईरानी

ओपिनियन पोस्ट
Thu, 28 Dec, 2017 15:30 PM IST

देबदुलाल पहाड़ी

केंद्रीय वस्त्र और सूचना व प्रसारण मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा है कि शिक्षा क्षेत्र, कृषक समुदाय और उद्योग जगत की ओर से प्राकृतिक फाइबर की उत्पादकता और इसके उप-उत्पादों के विविधीकरण से संबंधित ज्ञान के आदान-प्रदान के लिए वस्त्र मंत्रालय ज्ञान नेटवर्क प्रबंधन प्रणाली (केएनएमएस) को लागू कर रहा है। टेक्सटाइल इंडिया 2017 एक वृहत वस्त्र व्यापार आयोजन है। इसकी सफलताओं को आगे बढ़ाने के क्रम में सरकार ने यह निर्णय लिया है। वह पिछले 18 दिसंबर को नई दिल्ली में आयोजित 22वें परिधान निर्यात संवर्धन परिषद (एईपीसी) निर्यात पुरस्कार 2016-17 के प्रस्तुति समारोह को संबोधित कर रही थीं।

उन्होंने कहा कि भारतीय निर्यातकों की बाजार तक पहुंच बढ़ाने के लिए विशेष ध्यान दिया जा रहा है और सरकार क्षेत्र के सभी भागों में समाधान की तलाश कर रही है। वस्त्र क्षेत्र से जुड़े लोगों के कौशल विकास पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि मंत्रालय एक ऐसी नीति निर्माण की प्रक्रिया में है जो रेशम और जूट क्षेत्रों को मजबूती प्रदान करेगा।

AEPCवाणिज्य और उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने कहा कि वस्त्र उद्योग द्वारा अपनी क्षमता का उपयोग करने के लिए मंत्रालय कई उपाय कर रहा है। उन्होंने विकास को बढ़ाने में वैश्विक व्यापार के महत्व, नए क्षेत्रों की पहचान करने में बाजार अनुसंधान की भूमिका और नए उत्पादों की प्रस्तुति के महत्व को रेखांकित किया। उन्होंने कहा कि सरकार द्विपक्षीय और बहुपक्षीय वार्ताओं व समझौतों के माध्यम से उद्योग को नए बाजारों की तलाश करने में सुविधा प्रदान करने के लिए प्रयासरत है।

READ  अगले सप्ताह चार दिन बंद रहेंगे बैंक

केंद्रीय वस्त्र राज्य मंत्री अजय टमटा ने वस्त्र निर्यातकों को सम्मानित करने के लिए एईपीसी को बधाई दी। उन्होंने बड़ी संख्या में कुशल व अर्द्धकुशल लोगों को आजीविका प्रदान करने के संदर्भ में वस्त्र उद्योग के महत्व को रेखांकित किया। नीति आयोग के सीईओ अमिताभ कांत ने कहा कि वस्त्र क्षेत्र महत्वपूर्ण है क्योंकि यह रोजगार के साथ विकास प्रदान करता है। उन्होंने कहा कि इसी वजह से आयोग वस्त्र और परिधान क्षेत्र को अत्यधिक महत्व देता है।

22वें एईपीसी निर्यात पुरस्कार 2016-17 का भव्य आयोजन नई दिल्ली में किया गया। तैयार वस्त्र उद्योग के 18 क्षेत्रों में उल्लेखनीय उपलब्धियां हासिल करने वाले उद्यमियों को पुरस्कार दिया गया। इस अवसर पर परिधान निर्यात संवर्धन परिषद (एईपीसी) के अध्यक्ष अशोक रजनी, देश के प्रमुख वस्त्र निर्यातक व एईपीसी के अधिकारीगण उपस्थित थे। 500 करोड़ रुपये से अधिक के वैश्विक निर्यात की श्रेणी में हरीश आहूजा, शाही एक्सपोर्ट्स, मैनेजिंग डायरेक्टर सुधीर ढींगरा, सीएमडी ओरिएंट क्राफ्ट लिमिटेड ,  पी रामबाबू, वाइस चेयरमैन और एमडी गोकलदास एक्सपोर्ट्स लिमिटेड व अन्य को पुरस्कार प्रदान किया गया।

एईपीसी निर्यात पुरस्कार, भारतीय परिधान निर्यात कंपनियों की सफलता व अभिनव दृष्टिकोण का सम्मान करने के लिए प्रदान किया जाता है। ये पुरस्कार विभिन्न उत्पाद श्रेणियों के अंतर्गत लंबे समय से स्थापित और नवोन्मेषी दोनों ही प्रकार की कंपनियों को दिए जाते हैं। ये पुरस्कार उद्योग तथा राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था में निर्यातकों के योगदान के लिए दिए जाते हैं। इस वर्ष एईपीसी ने परिधान उद्योग की 18 श्रेणियों में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त करने वालों की पहचान की है। पहली बार एईपीसी निर्यात पुरस्कारों में सतत पोषणता और अच्छे कार्यकलापों की दो श्रेणियां शामिल की गई हैं।

×