न्यूज फ्लैश

प्रणव दा का राष्‍ट्रपति भवन में आखरी दिन, करेंगे राष्‍ट्र को संबोधित

कल से रहेंगे कलाम के बंगले में

ओपिनियन पोस्‍ट
देश के 13वें राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का सोमवार यानि आज राष्ट्रपति भवन में आखिरी दिन है । उनके कार्यकाल का ये आखिरी दिन है। शाम साढ़े सात बजे वो राष्ट्र को संबोधित करेंगें। नए राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 25 जुलाई को पदभार ग्रहण करेंगे। और फिर राष्‍ट्रपति भवन उनका आवास बन जाएगा।
बता दें कि राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के लिए रविवार शाम संसद में विदाई कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। संसद के सेंट्रल हॉल में विदाई कार्यक्रम में शामिल होने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी और लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन समेत दोनों सदन के सदस्य मौजूद रहे। इनमें पूर्व पीएम मनमोहन सिंह और कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया भी मौजूद रहीं। वहां उपस्थित सभी सांसदों ने राष्ट्रपति को भावभीनी विदाई दी। राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने लोकसभा स्पीकर और उपराष्ट्रपति का धन्यवाद किया। साथ ही संसद के सभी सदस्यों का अभिवादन स्वीकार किया।

इस बंगले में रहेंगे प्रणव दा

कल से 0 राजाजी मार्ग पर इसी बंगले में रहेंगे प्रणव दा

कल से 0 राजाजी मार्ग पर इसी बंगले में रहेंगे प्रणव दा

13वें राष्ट्रपति के तौर पर 25 जुलाई 2012 को कार्यभार संभालने वाले 81 साल के प्रणब मुखर्जी अब विशाल राष्ट्रपति भवन छोड़कर 10 राजाजी मार्ग पर रहेंगे। इसी के मद्देनजर दिल्ली के लुटियन जोन में उनके रहने के लिए तैयार किए जा रहे बंगले में तैयारियों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। इस ब्रिटिश कालीन बंगले की साज-सज्जा का काम लगभग पूरा कर लिया गया है और नए सिरे से इसकी रंगाई कराने के साथ ही लॉन और बागीचे को तैयार किया गया है।
इस दो मंजिला बंगले में पूर्व राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम भी अपनी रिटायरमेंट के बाद से निधन होने तक रहे थे। उनके निधन के बाद यह घर केंद्रीय संस्कृति मंत्री महेश शर्मा को आवंटित किया गया था।
एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि राष्ट्रपति मुखर्जी को यह घर आवंटित किए जाने के बाद शर्मा ने 10, राजाजी मार्ग स्थित घर को खाली कर दिया और 10 अकबर रोड स्थित बंगले में चले गए।
यहां संयोग की एक बात यह भी है कि महेश शर्मा का आधिकारिक बंगला ही देश के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद के लिए अस्थायी निवास का काम कर रहा है। कोविंद एनडीए उम्मीदवार के तौर पर अपना नामांकन दाखिल करने के बाद से ही यहां रह रहे थे।
ऐसे में राष्ट्रपति मुखर्जी जहां महेश शर्मा के पास मौजूद बंगले में शिफ्ट होंगे, वहीं नवनिर्वाचित राष्ट्रपति कोविंद अब महेश शर्मा का आधिकारिक बंगला खाली कर देश के प्रथम आवास में जाएंगे, जहां अब तक मुखर्जी रहते थे।

Leave a comment

Your email address will not be published.


*