न्यूज फ्लैश

सोशल- टूटी साइकिल पर हाथी बैठेगा तो ऐसा ही होगा

निशा शर्मा।

यूपी में राज्यसभा की 10 सीटों के लिए हुए चुनाव में भाजपा ने नौ सीटों पर जीत हासिल कर ली। वहीं 10वीं सीट पर सपा की उम्मीदवार जया बच्चन ने जीत दर्ज की। वोटिंग के दौरान सपा के विधायकों ने बसपा को वोट नहीं दिया। जीत हासिल करने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने समाजवादी पार्टी और बीएसपी के गठबंधन पर तंज भी किया। उन्होंने कहा, ”समाजवादी पार्टी का अवसरवादी चेहरा सामने आ गया. प्रदेश की जनता ने देखा है कि कैसे समाजवादी पार्टी दूसरों से ले तो सकती है लेकिन दे नहीं सकती. समझदार के लिए यही आवश्यक है कि वो खाई में गिरने से पहले लगी हुई ठोकर से संभल ले” जिसके बाद से अब तक सोशल मीडिया पर  यानी भतीजे ने बुआ को धोखा दिया हैशटेग ट्रेंड कर रहा है।

नरेन्द्र मोदी नाम से बने फैन क्लब ने सोशल मीडिया पर लिखा है कि लोकसभा के साथ अब राज्यसभा में भी बुआ को कुछ नही मिला है। इसी तरह सोशल मीडिया पर मायावती और समाजवादी पार्टी के गठबंधन को लेकर चुटकियां ली जा रही हैं। कहीं लिखा जा रहा है कि यह गठबंधन नहीं ठगबंधन था। तो कहीं लिखा जा रहा है कि बबुआ ने ऐसी चली चाल टूट गया माया जाल।

 कहा यहां तक जा रहा है कि समाजवादी पार्टी ने बहुजन समाज पार्टी के साथ बहुत अच्छे से राजनीतिक खेल खेला है। मायावती को समाजवादी पार्टी की मंशा को पहले से ही भांप लेना चाहिए था। एक जगह तो मायावती के गठबंधन के निर्णय पर तंज कसते हुए लिखा गया है कि सपा की टूटी साइकिल पर अगर हाथी बैठेगा तो यही अंजाम होगा। वहीं @kmlshdbh लिखते हैं,  ”फूलपुर/ गोरखपुर में बुआ का वोट लेने के बाद मिली जीत से खुश होकर भतीजा भागा-भागा अपनी बुआ से मिलने पहुंच गया था..पर कल हुई हार के बाद उन्होंने ऐसा नहीं किया क्योंकि उन्हें डर था कि कहीं बुआ उनसे ये न पूछ लें,”जया बच्चन वाली सीट दे देते तो क्या चला जाता ?

रवि नाम से एक ट्वीट में फोटो शेयर करते हुए मायावती का मखौल उड़ाया गय है। जिसमें मायावती की एक फोटो लगाई गई है जो रात्रिभोज पर अकेले बैठी हुई हैं और लिखा है- ये वो फोटो है जिसमें नरेन्द्र मोदी के खिलाफ़ विपक्ष के नेता मायावती के साथ रात्रिभोज करने पहुंचे हैं-

यही नहीं बसपा की हार का उपहास यहीं नहीं रूका किसी ने यहां तक लिखा कि राजनीति हमेशा आपको नया पाठ सिखाती है, लेकिन अगर आप नहीं सीख पाते तो आप अभी भी इस खेल में बच्चे हैं। अमित मालवीय नाम से एक ट्वीट में समाजवादी पार्टी और कांग्रेस पर प्रहार करते हुए लिखा कि “दलितों और सामाजिक न्याय की बात करने वाली सपा और कांग्रेस का चरित्र अब खुल कर सामने आ गया है – कांग्रेस ने बाबा साहेब अम्बेडकर को अपमानित किया, दो दो बार लोक सभा का चुनाव नहीं जितने दिया और अब सपा ने मायावती जी के प्रत्याशी को राज्य सभा नहीं जाने दिया।”

@Kshatriya_Thapa के नाम से ट्वीट से लिखते हैं ‘राज्यसभा में समाजवादी पार्टी को सिर्फ एक सीट मिली और समाजवादी पार्टी ने उस एक सीट के लिए ही मायावती को धाखा दे दिया।’

The following two tabs change content below.
ओपिनियन पोस्ट

ओपिनियन पोस्ट

ओपिनियन पोस्ट एक राष्ट्रीय पत्रिका है जिसका उद्देश्य सही और सबकी खबर देना है। राजनीति घटनाओं की विश्वसनीय कवरेज हमारी विशेषज्ञता है। हमारी कोशिश लोगों तक पहुंचने और उन्हें खबरें पहुंचाने की है। इसीलिए हमारा प्रयास जमीन से जुड़ी पत्रकारिता करना है। जीवंत और भरोसमंद रिपोर्टिंग हमारी विशेषता है।
ओपिनियन पोस्ट
About ओपिनियन पोस्ट (4574 Articles)
ओपिनियन पोस्ट एक राष्ट्रीय पत्रिका है जिसका उद्देश्य सही और सबकी खबर देना है। राजनीति घटनाओं की विश्वसनीय कवरेज हमारी विशेषज्ञता है। हमारी कोशिश लोगों तक पहुंचने और उन्हें खबरें पहुंचाने की है। इसीलिए हमारा प्रयास जमीन से जुड़ी पत्रकारिता करना है। जीवंत और भरोसमंद रिपोर्टिंग हमारी विशेषता है।

Leave a comment

Your email address will not be published.


*