कंगारूओं को हराकर चौथी बार अंडर 19 विश्व कप विजेता बनी भारतीय टीम

ओपिनियन पोस्‍ट
भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेले गए अंडर 19 विश्व कप का फाइनल मैच भारतीय टीम ने जीत लिया है। इस मुकाबले में टीम इंडिया को 8 विकेट से जीत हासिल हुई। इस मैच की खासियत रही मनजोत का शानदार शतक। टीम इंडिया ने शानदार खेल की बदौलत चौथी बार टीम ने विश्व कप पर अपना कब्ज़ा जमाया। भारतीय टीम की तरफ से खेलने वाले सभी खिलाड़ियों ने ग्राउंड पर जबरदस्त परफॉर्म किया। अंडर 19 टीम की जीत में कोच राहुल द्रविड की रणनीति की अहम भूमिका रही।

अंडर-19 वर्ल्ड कप का खिताब जीतते ही टीम इंडिया के प्लेयर्स मालामाल हो गए। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने मैच खत्म होते ही सभी के लिए ईनाम की घोषणा की। बोर्ड अंडर-19 टीम में शामिल सभी 16 खिलाड़ियों को 30-30 लाख रुपए देगा। वहीं, टीम को चैम्पियन बनाने वाले कोच राहुल द्रविड़ और सपोर्ट स्टाफ के हर मेंबर को भी पैसे मिलेंगे।

इस मैच में ऑस्ट्रेलिया के कप्तान जेसन सांघा ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाज़ी का फैसला किया। अपने पहले बल्लेबाजी के दौरान ऑस्ट्रेलिया की टीम पूरे 50 ओवर भी नहीं खेल पाई और महज 47.2 ओवर में ही 216 रन बनाकर टीम सिमट गई, जबकि भारतीय टीम ने इस मुकाबले को महज 38.5 ओवर में ही 2 विकेट के नुकसान पर समाप्त कर दिया।

इस जीत के पीछे मनजोत कालरा का बड़ा योदगान रहा। इस मुकाबले में उन्होंने अपनी शानदार पारी खेली, वे 102 गेंदों में 101 रन बनाकर भी नाबाद रहे। अगर चौके और छक्के की बात करें तो उन्होंने इस मैच में 8 चौके और 3 छक्के लगाए. कुल मिलकार मनजोत का इस मैच में काफी अच्छा प्रदर्शन रहा।

×