न्यूज फ्लैश

शुरू हुआ खाद्य और पेय पदार्थ का सबसे बड़ा प्रदर्शनी सियाल फ़ूड इंडिया

खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मैं निवेश बढ़ेगी और कृषक और युवा पीढ़ियों को नौकरी मिलेगी ।

देब दुलाल पहाड़ी ।

भारत में सियाल का पहला खाद्य और पेय पदार्थ की सबसे बड़ी प्रदर्शनी ” सियाल -फ़ूड इंडिया ” दिल्ली के प्रगति मैदान में शुरू हो गई है। 3 दिन तक चलने वाली इस प्रदर्शनी का शुभारंभ केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने किया।

देश बिदेश के 150 से ज्यादा प्रदर्शकों जो की स्विट्ज़रलैंड, फ्रांस, ब्रिटेन, रूस, चीन, इंडोनेशिया, इटली, टर्की और कोरिया जैसे देशों के साथ साथ भारत के अमूल, अदानी, मदर डेयरी, पतंजलि , ब्रिटानिया, फ्यूचर ग्रुप, एल टी फूड्स (कंपनी के ब्रांडों में दावत, रॉयल, इकोलाइफ शामिल हैं) , सप्पल टेक इंडस्ट्रीज , जी डी फूड्स मैन्युफैक्चरिंग , भीबा फ़ूड सर्विसेज , डी इस  ग्रुप ,एस्क्वेयर फूड एंड बेवरेज (जिनका ज़ोफ़ नाम के  बेहतरीन गुणवत्ता वाले  मसालों के नाम से जाना जाता है  ) जैसी भारतीय कंपनियां को प्रदर्शनी में हिस्सा लेते हुए देखा गया ।

बादल ने कहा कि “यह पहली बार है जब इतनी बड़ी एग्जीबिशन भारत में लगी है और हमें इससे काफी उम्मीदें हैं । खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मैं निवेश बढ़ेगी और कृषक और युवा पीढ़ियों को नौकरी मिलेगी ” ।

बादल के अनुसार, भारत दुनिया के प्रमुख खाद्य उत्पादक देशों के बावजूद, केवल 10% भोजन संसाधित हो जाता है और वहां बहुत सारी बर्बादी होती है। रविवार को प्रगति मैदान में पहले सियाल खाद्य भारत के प्रदर्शनी का उद्घाटन करते हुए उन्होंने कहा, “भारत में खाद्य प्रसंस्करण में आधुनिक तकनीक के साथ खाद्य अपशिष्ट काफी कम हो जाएगा।”

हरसिमरत कौर के मुताबिक इस प्रदर्शनी से विदेशी और देशी कंपनियों के साथ साथ किसानों और नई पीढ़ी को फायदा होगा और नए रोजगार भी पैदा होगा। उन्होने कहा ” हमारे मंत्रालय पिछले चार साल में कोशिश करके देश भर में कोल्ड चैन का ग्रिड बना रहा है ताकि किशन का फसल बर्बादी से बचे । प्रधान मंत्री किशन सम्पदा योजना के तहत 6000करोड़ रुपए सब्सिडी के तहत दिया जायेगा जिससे 31000 करोड़ रुपए का फयदा होगा , हर राज्य ने मेगा फ़ूड पार्क होगा , कोल्ड चेन्स होगा , मिनी फूड पार्क होगा , इससे किशानो का आमदनी बढ़ेगी। “

सप्पल टेक इंडस्ट्रीज के स्टाल में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर बादल

सप्पल टेक इंडस्ट्रीज के स्टाल में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग मंत्री हरसिमरत कौर बादल

बासमती राइस के जाने पहचाने कंपनी सप्पल टेक इंडस्ट्रीज के सीईओ जय कुमार गुप्ता के मुताबिक ” सप्पल टेक इंडस्ट्रीज को लगातार कई वर्षों तक कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण (एपीडा) और भारतीय निर्यात का संघटन ( फियो ) द्वारा बासमती चावल का सबसे बड़ा निर्यातक और निर्माता के रूप में सम्मानित किया गया है। सालाना 500,000 मीट्रिक टन से भी ज्यादा भारतीय बासमती चावल का सफलतापूर्वक निर्यात करती हैं।

प्रदर्शनी में जी डी फूड्स मैन्युफैक्चरिंग ( जिनके टॉप्स ब्रांड के प्रोडक्ट्स से पहचाना जाता है ) के उपाध्यक्ष जॉयदीप कालरा और प्रबंधक रोमा मल्होत्रा के मुताबिक टॉप्स के प्रोडक्ट्स जैसे पिकल , जैम , जेली , सॉस , कॉर्न फ्लावर , केक मिक्सचर्स इत्यदि इंडस्ट्री के 17O प्रकार के प्रोडक्ट्स होटल , रेस्टोरेंट , बिग बज़ार , वालमार्ट , रिलायंस मार्किट , कॅश एंड कैर्री , भारतीय रेल के साथ साथ बहत सारे देशो में उपलब्ब्ध है ।

बी 2 बी प्रदर्शनी के कुछ हाइलाइट्स हैं: जैसे लाइव कुकिंग ज़ोन । इंडियन कलिनरी फोरम (आईसीएफ), प्रर्चेसिंग प्रोफेशनल्स फोरम इंडिया (पीपीएफआई), फोरम ऑफ इंडियन फूड इम्पोर्टरस (एफआईएफआई) और माइक्रो स्माल एंड मीडियमइंटरप्राइजेज (एमएसएमई) द्वारा सम्मेलन । होस्टेड बाइअर प्रोग्राम – सियाल नेटवर्क से 35 अंतर्राष्ट्रीय खरीददार, एफआईएफआई के लगभग 65 खरीददार, पीपीएफआई से 80-100 खरीद प्रबंधक, आईसीएफ से सभी स्तरों के 450 से 500 शेफ और एनआरएआई के लगभग 100 रेस्तरां सदस्य मौजूद होंगे।

इंटर एडस प्राइवेट लिमिटेड के एमडी राजन शर्मा ने कहा, ‘फ़ूड इंडिया बाई सियाल’ के रूप में पहली बार भारत में सियाल नेटवर्क लाने के लिए हमें बहुत खुशी है। हम दुनिया भर से खाद्य क्षेत्र के पेशेवरों के सामने अपने खाद्य और पेय उत्पादों और उपकरणों का प्रदर्शन करेंगे। मैं माननीय खाद्य और प्रसंस्करण उद्योग मंत्री श्रीमती हरसिमरत कौर बादल का इस प्रदर्शनी को पूरा समर्थन देने के लिए और ‘फ़ूड इंडिया बाई सियाल’ को वास्तविकता प्रदान करने के लिए हार्दिक धन्यवाद देना  हूं। “

फ़ूड इंडिया बाई सियाल के पहले संस्करण के बारे में आशावाद व्यक्त करते हुए निकोलस ट्रेंटसॉक्स, सियाल नेटवर्क, जनरल डायरेक्टर ने कहा, “निस्संदेह, भारत अगले आने वाले सालों में न केवल उभरती जनसांख्यिकी के कारण खाद्य उद्योग में सबसे आकर्षक विकास प्रदान करेगा, बल्कि साथ में मध्य वर्ग की तेजी से बढ़ती आमदनी से क्षेत्रीय और विश्वव्यापी खाद्य प्रसंस्करण के तेज़ विकास का केंद बनेगा। सियाल के ग्लोबल नेटवर्क का भाग बनकर हम इस चुनौतियों और सफलताओं के माहौल में भारत में इस शानदार अवसर का हिस्सा बन सकते हैं। ‘फ़ूड इंडिया बाई सियाल’ व्यापार के अवसरों और प्रेरणा के लिए भारत में सबसे अच्छा मंच प्रदान करता है। “

यह प्रदर्शनी एम एस एम ई – भारत सरकार, टी बोर्ड ऑफ इंडिया और उद्योग संघों जैसे इंडियन कूलीनारी फोरम (आईसीएफ), पर्चेसिंग प्रोफेशनल्स फोरम इंडिया (पीपीएफआई), फोरम ऑफ इंडियन फूड इम्पोर्टरस (एफआईएफआई), होस्पिटलिटी पर्चेसिंग मैनेजर्स फोरम (एचपीएमएफ) और ऑल इंडिया राइस एक्सपोर्टर्स एसोसिएशन (एआईआरईए) द्वारा समर्थित है।

The following two tabs change content below.
ओपिनियन पोस्ट

ओपिनियन पोस्ट

ओपिनियन पोस्ट एक राष्ट्रीय पत्रिका है जिसका उद्देश्य सही और सबकी खबर देना है। राजनीति घटनाओं की विश्वसनीय कवरेज हमारी विशेषज्ञता है। हमारी कोशिश लोगों तक पहुंचने और उन्हें खबरें पहुंचाने की है। इसीलिए हमारा प्रयास जमीन से जुड़ी पत्रकारिता करना है। जीवंत और भरोसमंद रिपोर्टिंग हमारी विशेषता है।
ओपिनियन पोस्ट
About ओपिनियन पोस्ट (4574 Articles)
ओपिनियन पोस्ट एक राष्ट्रीय पत्रिका है जिसका उद्देश्य सही और सबकी खबर देना है। राजनीति घटनाओं की विश्वसनीय कवरेज हमारी विशेषज्ञता है। हमारी कोशिश लोगों तक पहुंचने और उन्हें खबरें पहुंचाने की है। इसीलिए हमारा प्रयास जमीन से जुड़ी पत्रकारिता करना है। जीवंत और भरोसमंद रिपोर्टिंग हमारी विशेषता है।

Leave a comment

Your email address will not be published.


*