न्यूज फ्लैश

कभी भी कहीं भी करिए पैसे का लेन- देन

नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ़ इंडिया ने यूपीआई लॉन्च किया है और चूंकि सरकार इसे बैंकों के लिए पेमेंट के प्लेटफार्म के रूप में देख रही है, सभी बैंक जल्दी ही इसके हिस्सेदार हो सकते हैं।

देश में नकद लेनदेन कम करके ऑनलाइन भुगतान प्रणाली को मजबूत करने की दिशा में बड़ा कदम उठाया गया है। नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया ने यूनीफाइड पेमेंट्स इंटरफेस (यूपीआई) शुरू कर दिया गया है। यूनिफाइड पेमेंट इंटरफ़ेस यानी यूपीआई के शुरू होने के बाद स्मार्टफ़ोन के ज़रिए किसी को भी पैसे देना थोड़ा और आसान हो गया है। सरकार चाहती है कि कैश का इस्तेमाल अब पूरी अर्थव्यवस्था में कम हो और उस दिशा में ये पहला बड़ा कदम होगा।

इससे आपका स्मार्ट फोन पेमेंट बैंक बन जाएगा। इस समय यूपीआई के तहत 21 बैंकों के ग्राहक अपने स्मार्ट फोन के जरिये ऑनलाइन भुगतान कर सकेंगे। सभी बैंकों से जुड़े एक ही ऐप को अपने स्मार्टफोन पर डाउनलोड करके पैसे के लेन-देन को आपके लिए ये बहुत आसान कर देगा। चूंकि सिर्फ एक ही पहचान के साथ लोग इसका इस्तेमाल करके अपनी पेमेंट कर सकेंगे, दूसरे ऑनलाइन पेमेंट के तरीके से ये आसान होगा।

नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ़ इंडिया ने यूपीआई लॉन्च किया है और चूंकि सरकार इसे बैंकों के लिए पेमेंट के प्लेटफार्म के रूप में देख रही है, सभी बैंक के जल्दी ही इसके हिस्सेदार होने की उम्मीद है। कुछ बैंक जो इसमें शामिल हैं वो हैं आंध्र बैंक, ऐक्सिस बैंक, बैंक ऑफ महाराष्ट्र, भारतीय महिला बैंक, कैनरा बैंक, ओरिएंटल बैंक ऑफ़ कॉमर्स, यूनियन बैंक ऑफ़ इंडिया और विजया बैंक।

इन बैंकों ने गूगल प्ले स्टोर पर अपना ऐप लॉन्च किया है जबकि एप्पल के लिए आईओएस वर्जन अभी कुछ महीने बाद रिलीज़ होगा। भारत में 90 फीसदी से भी ज्यादा स्मार्ट फोन एंड्रॉएड पर काम करते हैं।

पेमेंट के लिए आपको सिर्फ रिसीवर की यूनिक आईडी (र्इमेल आईडी, मोबाइल नंबर या आधार) की जरूरत होगी। आपको यूपीआई ऐप खोलकर जितना पैसा भेजना है वो चुनना होगा और रिसीवर की यूनिक आईडी जोड़ने के बाद सेंड के ऑप्शन पर क्लिक करना होगा। पेमेंट भेजने से पहले ऐप एक बार ऑथेंटिकेट करने के लिए मोबाइल पिन पूछेगा, जिसे डालने के बाद पेमेंट हो जाएगी। ये सभी काम आप यूनीफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) सिस्‍टम से कर सकते हैं।

अगर आपको किसी से पैसे मांगने हैं तो आपनी रिकवेस्ट का अप्रूवल यूपीआई से ले सकते हैं और ये सब होगा तत्काल भुगतान सेवा (आईएमपीएस) के माध्यम से। यूपीआई का उपयोग करने के लिये आपके पास स्मार्टफोन होना जरूरी है, आप जैसे ही ऐप डाउनलोड करेंगे वैसे ही बैंक आपको एक वर्चुअल पता देगा जैसे जो आपके ईमेल आईडी जैसा ही होता है। यूपीआई का उपयोग करके आप 19 बैंको के बीच रीयल टाइम में ट्रांसफऱ कर सकते है जो सेवा वोलेट में मौजूद नही है।

The following two tabs change content below.
ओपिनियन पोस्ट

ओपिनियन पोस्ट

ओपिनियन पोस्ट एक राष्ट्रीय पत्रिका है जिसका उद्देश्य सही और सबकी खबर देना है। राजनीति घटनाओं की विश्वसनीय कवरेज हमारी विशेषज्ञता है। हमारी कोशिश लोगों तक पहुंचने और उन्हें खबरें पहुंचाने की है। इसीलिए हमारा प्रयास जमीन से जुड़ी पत्रकारिता करना है। जीवंत और भरोसमंद रिपोर्टिंग हमारी विशेषता है।
ओपिनियन पोस्ट
About ओपिनियन पोस्ट (4436 Articles)
ओपिनियन पोस्ट एक राष्ट्रीय पत्रिका है जिसका उद्देश्य सही और सबकी खबर देना है। राजनीति घटनाओं की विश्वसनीय कवरेज हमारी विशेषज्ञता है। हमारी कोशिश लोगों तक पहुंचने और उन्हें खबरें पहुंचाने की है। इसीलिए हमारा प्रयास जमीन से जुड़ी पत्रकारिता करना है। जीवंत और भरोसमंद रिपोर्टिंग हमारी विशेषता है।

Leave a comment

Your email address will not be published.

*