चर्चा में अखिलेश का विवादित बयान

वीरेंद्र नाथ भट्ट।

उत्तर प्रदेश में एक दूसरे पर वार-पलटवार में मर्यादा की सीमा लांघ आज अखिलेश यादव ने सोमवार को विवादित बयान दिया, जिसकी हर ओर चर्चा हो रही है। रायबरेली में चुनाव सभा में अखिलेश ने सदी के महानायक अमिताभ बच्चन से अपील की कि वह गुजरात के गधों का विज्ञापन करना बंद कर दें।

गुजारत के मुख्यमंत्री रहने के समय नरेंद्र मोदी ने गुजरात की छवि में निखार लाने के लिए सदी के महानायक अमिताभ बच्चन को राज्य का ‘ब्रांड एम्बेसडर’ नियुक्त किया था। अमिताभ के विज्ञापन की टैग लाइन ‘कुछ दिन तो गुजारो गुजरात में’  की देश भर में चर्चा हुई थी।

अखिलेश ने कहा, ‘कमाल है गधों का विज्ञापन होने लगा, सोचो देश किस दिशा में जा रहा है। मैं सदी के महानायक से अपील करना चाहता हूं कि वह गधों का विज्ञापन करना बंद कर दें। मैं आप लोगों से पूछना चाहता हूं कि क्या गधों को विज्ञापन की जरूरत है, लेकिन फिर भी गुजरात की सरकार गधों का विज्ञापन कर रही है।

अखिलेश ने भाव विभोर होकर विज्ञापन का पूरा टेक्स्ट पढ़ कर सुनाया।  रस लेकर पढ़ते हुए अखिलेश ने कहा, ‘गुजरात का सरताज,  यह जनाब दुनिया में सिर्फ यहीं मिलेंगे। अहमदाबाद से 150 किलोमीटर दूर, महीनों हो गए नहाए हुए दीखते हैं नीट एंड क्लीन। यह शहर वाला गधा नहीं है  जो सड़क पर खड़ा होकर कोई गहरी बात सोचता हो, इसके पास सोचने समझने की फुर्सत कहां। 70 किलोमीटर की स्पीड से भागते यह भाई साहब बड़ा हैंडसम जानवर है। सर्व गुण संपन्न एक ऐसा गधा जो सारे गधों का नाम रोशन करता है। ऐसे 4,500 हैं यहां, खूब फल फूल रहे हैं गुजरात के आंगन में। गधा कोई गाली नहीं, तारीफ़ की थाली है। यह खुशबू है वाइल्ड लाइफ की उनकी देखभाल में। टिकट कटवा लो दूरबीन रख लो हाथ में, कुछ दिन तो गुजारो गुजारत में।

अमिताभ बच्चन की पत्नी जया बच्चन समाजवादी पार्टी की राज्य सभा सदस्य हैं और आज कल अखिलेश यादव की पत्नी डिंपल यादव के साथ पार्टी के लिए चुनाव प्रचार में व्यस्त हैं।

×