राजरंग : खतरे में कुमारस्वामी की कुर्सी

ओपिनियन पोस्ट
Wed, 31 Jul, 2019 16:50 PM IST

कर्नाटक के मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी की कुर्सी पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं. पिछले साल हुए विधानसभा चुनाव में अधिक सीट लाने के बावजूद कांग्रेस ने जनता दल (एस) के लिए मुख्यमंत्री का पद छोड़ दिया था. भाजपा को कर्नाटक की सत्ता से दूर रखने और लोकसभा चुनाव में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए कांग्रेस ने इतना बड़ा त्याग किया था, लेकिन इस बार लोकसभा चुनाव में गठबंधन करने के बावजूद कांग्रेस और जद (एस) की स्थिति खराब हो गई. दोनों पार्टियों को केवल एक-एक सीट पर जीत हासिल हुई, जबकि भारतीय जनता पार्टी ने राज्य की 28 में से 25 सीटें जीत लीं. चुनाव परिणाम आने के बाद से चर्चा जारी है कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के फैसले से कर्नाटक के कांग्रेसी नेता खुश नहीं थे. इसी वजह से स्थानीय नेताओं ने केंद्रीय नेतृत्व का पूरी तरह साथ नहीं दिया. चर्चा यह भी तेज हो गई है कि क्या कांग्रेस आगे भी कुमारस्वामी को मुख्यमंत्री बनाए रखेगी या फिर अपने किसी नेता के लिए इस पद की मांग करेगी. दूसरी ओर भाजपा नेता येदियुरप्पा भी राज्य में सत्ता परिवर्तन की कोशिश कर रहे हैं. कांग्रेस के दो विधायकों ने बगावत भी कर दी है, लेकिन उन्होंने अपने पत्ते अभी नहीं खोले हैं. संभावना जताई जा रही है कि अगर कांग्रेस ने अपने लिए मुख्यमंत्री का पद नहीं मांगा, तो पार्टी के कुछ विधायक अलग हो जाएंगे और फिर भाजपा को सरकार गिराने का मौका मिल जाएगा. दोनों ही स्थितियों में कुमारस्वामी की कुर्सी खतरे में है.

READ  राम जन्मभूमि- बाबरी मस्जिद विवाद और हाईकोर्ट का फैसला
×