ट्रोलर्स प्रजाति और मीडिया

ओपिनियन पोस्ट
Sat, 16 Mar, 2019 15:34 PM IST

अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा फिल्मी मोर्चे पर इजइंट रोमांटिकजैसी थकी हुई हॉलीवुड फिल्म में एक्स्ट्रा टाइप रोल करने के लिए ट्रेंड हो रही हैं, लेकिन इसके प्रचार कैंपेन में उन्होंने एक बात जरा कायदे की कह दी कि घटिया ट्रोलर्स के फिजूल कमेंट्स को आखिर मीडिया खबर क्यों बना देता है. कहना तो उनका सौ टका सही है. आए दिन मीडिया किसी भी कट्टर या ठरकी ट्रोलर की पोस्ट लेकर अपने अखबार या मैगजीन में ऐसे उतार देता है, मानों गौतम बुद्ध या महावीर के फेमस कोट्स हों. नुकसान यह होता है कि इस ट्रोलर्स प्रजाति के लोगों को सेंटर ऑफ अट्रैक्शन बनने का मौका मिल जाता है और फिर ये बेलगाम होकर किसी के भी चरित्र को चारों कोनों से तार-तार कर देते हैं. इनके महिमामंडन से कलाकारों पर अत्यधिक दबाव बढ़ता है और प्रियंका भी इनके हत्थे चढ़ चुकी हैं. सो, उनका कहना सही है, मुझे यह कभी समझ में नहीं आया कि किसी व्यक्ति की राय खबर कैसे हो सकती है.

READ  महमूद फारूकी को 7 साल की जेल, फिल्म 'पीपली लाइव' के हैं डायरेक्टर
×