अब कौन बनेगा डेरा प्रमुख, शुरू हुआ कयासों का दौर?

सुनील वर्मा
गुरमीत राम रहीम के दोषी करारा दिए जाने के बाद अब ये सवाल खड़ा हो गया है कि उन्हें सजा होने पर उनकी गद्दी कौन संभालेगा। इसे लेकर कई कयास लगाए जा रहे हैं। कुछ लोगों का कहना है कि राम रहीम के बाद डेरा सच्चा सौदा का प्रमुख उनके बेटे जसमीत इंसा को बनाया जाएगा। लेकिन डेरा के नियम के मुताबिक किसी डेरा प्रमुख किसी परिजन को अपने गद्दी नहीं सौंप सकते इसलिए माना जा रहा है कि हीं अरबों की संपत्ति पाने की दौड़ में गुरमीत राम रहीम की गोद ली हुई बेटी हनीप्रीत और डेरे में नंबर दो की हैसियत रखने वाली विपसना डेरा प्रमुख बनने की दौड में शामिल हैं। दोनों ही गुरमीत राम रहीम के काफी करीब बतायी जाती हैं।

जसमीत इंसा का प्रमुख बनना नहीं होगा आसान

राम रहीम की तीन बेटियां चरणप्रीत,अमरप्रीत, हनीप्रीत और एक बेटा जसमीत है. सजा होने की स्थिति में डेरा प्रमुख के रूप में जसमीत इंसा का नाम सामने आ रहा है। वो इसलिए क्योंकि सीबीआई ने जब गुरमीत के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की थी उस समय उन्होंने जसमीत इंसा को अपना उत्तराधिकारी बनाने की घोषणा की थी। लेकिन ऐसा होना आसान नहीं है, क्योंकि डेरा के एक नियम के मुताबिक डेरा का अगला प्रमुख मौजूदा प्रमुख के परिवार या खानदान से नहीं हो सकता। गुरमीत का बेटा जसप्रीत इंसा डेरा सच्चा सौदा का मैनेजमेंट देखता है। गुरमीत की गैर मौजूदगी में डेरे के सभी अहम फैसले वो ही लेता है। डेरा के सभी सेवादार उसे डे टू डे एक्टिविटीज की रिपोर्टिंग करते हैं। गुरमीत की पत्नी हुस्नमीत इंसा बठिंडा के पूर्व विधायक हरमिंदर सिंह की बेटी हैं।

गुरु ब्रह्मचारी विपसना भी हैं मजबूत दावेदार

 

गुरमीत राम रहीम अपनी तीनों बेटियों व दो दामादों के साथ
गुरमीत राम रहीम अपनी तीनों बेटियों व दो दामादों के साथ

गुरमीत सिंह के बाद फिलहाल गुरु ब्रह्मचारी विपसना को डेरा प्रमुख का सबसे मजबूत दावेदार माना जा रहा है। विपसना डेरा में दूसरे स्थान पर मानी जाती हैं। राम रहीम के बाद उनके पास ही अपनी ओर से चीजों पर फैसला करने का एकमात्र अधिकार है। विपसना के अंडर में 250 लोगों की टीम काम करती है। वो डेरा द्वारा संचालित सामाजिक सेवा परियोजनाओं का संचालन भी करती हैं।
सबकी निगाहें हैं इस दावेदार पर

तीनों बेटियों के साथ गुरमीत राम रहीम
तीनों बेटियों के साथ गुरमीत राम रहीम

विपसना के अलावा मजबूत दावेदार में गुरमीत राम रहीम की बेटी हनीप्रीत का नाम शामिल हैं। 35 साल की हनीप्रीत को विपसना के टक्कर में देखा जा रहा है। हनीप्रीत भी गुरु ब्रह्मचारी हैं। पिछले सात सालों से वो राम रहीम के साथ हैं और उनके काफी करीब मानी जाती हैं। डेरा प्रमुख अपनी सहमति देते हैं तो हनीप्रीत भी सत्ता संभाल सकती हैं। हनीप्रीत इंसा गुरमीत राम रहीम की गोद ली हुई बेटी हैं ऐसे में इनकी नियुक्ति में डेरा प्रमुख के चयन का परिवार वाला नियम आड़े नहीं आएगा। गुरमीत की तीन बेटियां और एक बेटा है। उनकी छोटी बेटी फिल्म एक्ट्रेस है। गुरमीत की दो बेटियों की शादी हो चुकी है। उनकी बड़ी बेटी चरणप्रीत अौर दूसरी बेटी का नाम अमनप्रीत इंसा है। गुरमीत की तीसरी बेटी हनीप्रीत उनके साथ फिल्मों में काम कर चुकी है। उसने गुरमीत की फिल्म में एक्टिंग के साथ-साथ उसका डायरेक्शन भी किया था। हनीप्रीत का पलड़ा इसलिए भी भारी माना जा रहा है क्योंकि शुक्रवार को भी वे ही गुरमीत के जेल जाते वक्त उनके साथ थीं।

गुरमीत जेल से चलाएंगे सत्ता
इन सब के बीच ऐसा भी माना जा रहा है कि गुरमीत राम रहीम डेरा सच्चा की कमान अपने पास रख सकते हैं। ऐसा होने पर वो डेरा का संचालन जेल से ही करेंगे। सारे सवालों का जवाब सोमवार को मिलेगा जब अदालत गुरमीत राम रहीम को सजा सुना देगी।

×