न्यूज फ्लैश

संयुक्तराष्ट्र की सूची में दाऊद-हाफिज समेत 139 आतंकी

पाकिस्‍तान एक बार फिर साबित हुआ टेररिस्‍तान, भारत के दावे को मिला बल

नई दिल्ली।

पाकिस्‍तान एक बार फिर टेररिस्‍तान साबित हुआ है। भारत का सबसे बड़ा दुश्मन और मुंबई आतंकी हमले का मास्टरमाइंड हाफिज सईद अब संयुक्‍तराष्‍ट्र (यूएन) के भी निशाने पर है। अमेरिका के बाद संयुक्तराष्ट्र ने भी आतंकवादियों की लिस्ट जारी की है, जिसमें पाकिस्तान से जुड़े 139 आतंकवादी या फिर आतंकी संगठन हैं।

इस लिस्ट में 1993 मुंबई बम ब्लास्ट के आरोपी अंडर वर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का भी नाम है। यूएन की 139 पाकिस्तानी आतंकियों की लिस्ट में अलकायदा, लश्कर-ए-तैयबा और जमात-उद-दावा का भी नाम है। काउंसिल के मुताबिक दाउद इब्राहिम के पास कई पाकिस्तानी पासपोर्ट हैं जो रावलपिंटी और कराची में जारी किए गए हैं।

एजेंसी ने दावा किया है कि दाऊद कराची स्थित आलीशान बंगले में रहता है। मुंबई आतंकी हमलों के मास्टरमाइंड हाफिज सईद को लिस्ट में आतंकी गतिविधियों के लिए इंटरपोल से वांछित बताया गया है। लिस्ट में उन सभी के नाम हैं जो पाकिस्तान में रह रहे हैं,  वहां से संचालित हो रहे हैं या फिर ऐसे संगठनों से जुड़े हैं जो आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए पाकिस्तान में हैं।

लिस्ट में पहला नाम अयमान अल-जवाहिरी का है। जवाहिरी को कुख्यात आतंकी ओसामा बिन लादेन का उत्तराधिकारी माना जाता है। संयुक्तराष्ट्र का दावा है कि जवाहिरी अभी भी अफगानिस्तान-पाकिस्तान बॉर्डर के पास कहीं रह रहा है।

लिस्ट में जवाहिरी के कुछ सहयोगियों का भी नाम है, जो उसके साथ ही छिपे हैं। इसके अलावा लश्कर-ए-तैयबा के आतंकी हाजी मोहम्मद याहा मुजाहिद, अब्दुल सलाम, जफर इक़बाल का भी नाम इस लिस्ट में है। कथित तौर पर पाकिस्तान में कई आतंकवादी संगठन हैं जिनसे इन व्यक्तियों के संबंध थे।

ये संगठन हैं- अल राशीद ट्रस्ट, हरकतूल मुजाहिदीन, उज़्बेकिस्तान के इस्लामिक आंदोलन, वफा मानवीय संगठन, जैश-ए-मोहम्मद, रबीता ट्रस्ट, उम्मा तामीर-आई- इस्लामिक विरासत सोसाइटी, लश्कर-ए-झांगवी, अल-हार्मन फाउंडेशन, इस्लामिक जिहाद समूह, अल अख्तर ट्रस्ट इंटरनेशनल, हरकतूल जिहाद इस्लामी, तहरीक-ई-तालिबान पाकिस्तान, जमातुल अहिर और खतिबा इमाम अल- बुखारी।

इनमें से कुछ को अफगानिस्तान-पाकिस्तान सीमा क्षेत्र के आतंकी संगठन के रूप में सूचीबद्ध किया गया है। एक तरह से भारत पाकिस्तान के जिन संगठनों को आतंक फैलाने के लिए जिम्मेदार मानता आया है, वे यूएन की आतंकी लिस्ट में हैं। इस लिस्ट से भारत के दावों को बल मिला है।

इससे पहले अमेरिका ने जमात-उद-दावा के प्रमुख हाफिज सईद को तगड़ा झटका दिया था। अमेरिका ने मंगलवार को मिल्ली मुस्लिम लीग को एक आतंकवादी संगठन घोषित कर दिया था। एमएमएल मोस्ट वांटेड आतंकी हाफिज सईद के नेतृत्व वाले आतंकवादी संगठन जमात-उद-दावा का राजनीतिक मोर्चा है।

The following two tabs change content below.
ओपिनियन पोस्ट

ओपिनियन पोस्ट

ओपिनियन पोस्ट एक राष्ट्रीय पत्रिका है जिसका उद्देश्य सही और सबकी खबर देना है। राजनीति घटनाओं की विश्वसनीय कवरेज हमारी विशेषज्ञता है। हमारी कोशिश लोगों तक पहुंचने और उन्हें खबरें पहुंचाने की है। इसीलिए हमारा प्रयास जमीन से जुड़ी पत्रकारिता करना है। जीवंत और भरोसमंद रिपोर्टिंग हमारी विशेषता है।
ओपिनियन पोस्ट
About ओपिनियन पोस्ट (4407 Articles)
ओपिनियन पोस्ट एक राष्ट्रीय पत्रिका है जिसका उद्देश्य सही और सबकी खबर देना है। राजनीति घटनाओं की विश्वसनीय कवरेज हमारी विशेषज्ञता है। हमारी कोशिश लोगों तक पहुंचने और उन्हें खबरें पहुंचाने की है। इसीलिए हमारा प्रयास जमीन से जुड़ी पत्रकारिता करना है। जीवंत और भरोसमंद रिपोर्टिंग हमारी विशेषता है।

Leave a comment

Your email address will not be published.

*