congress

congress

अबकी बार किसकी सरकार

मोदी ने जो कहा, सो किया नवादा के डेंटल ओरल सर्जन डॉ. रमेश कुमार का कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मिशन ने कई अहम मुकाम हासिल किए. स्वच्छ भारत मिशन, सबको आवास और प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना...

मगध (बिहार) : एनडीए और महागठबंधन में सीधी टक्कर

एनडीए के मजबूत गढ़ मगध के चार लोकसभा क्षेत्रों के राजनीतिक-सामाजिक समीकरण बदल गए हैं. 2014 के लोकसभा चुनाव में एनडीए, राजद-कांग्रेस और जदयू के बीच हुए त्रिकोणात्मक संघर्ष में चारों सीटों पर एनडीए को स...

बीजद-भाजपा में कांटे की टक्कर

आगामी ११ अप्रैल से चार चरणों में होने वाले लोकसभा एवं विधानसभा चुनावों को लेकर राजनीतिक दलों की सक्रियता बढ़ गई है. स्थानीय निकाय चुनाव में मिली कामयाबी को देखते हुए भाजपा जोश से लबरेज है, दूसरी ओर नव...

विपक्षी एकता हुई निजी महत्वाकांक्षाओं का शिकार

मजबूत विपक्ष मजबूत लोकतंत्र की एक आवश्यक शर्त है. सिर्फ इसलिए नहीं कि सत्ता पर अंकुश बनाए रखना जरूरी है. इसलिए भी कि सत्ता से सवाल करते रहने का काम भी विपक्ष का ही है. लेकिन, भारतीय लोकतंत्र में आम तौ...

भाजपा की राह आसान नहीं

दिल्ली की सत्ता तक पहुंचने के लिए किसी भी पार्टी को कुछ राज्यों में बेहतरीन प्रदर्शन करना जरूरी है. भाजपा को अगर फिर से सत्ता में वापसी करनी है,  तो उसे उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल एवं ओ...

2019 के जंग की रणनीति

राज्य में कांग्रेस की सरकार है, लेकिन उसके बड़े नेता 11 दिसंबर को आए चुनावी नतीजे आज भी भूले नहीं हैं, खासकर मुख्यमंत्री कमल नाथ. हालांकि वह कहते हैं, हमारा हारा हुआ उम्मीदवार भी कांग्रेस सरकार का प्र...

अबकी बार किसकी सरकार

बेजोड़ हैं नरेंद्र मोदी हड्डियों को जोडऩे में माहिर डॉ. भुवन सिंह का मानना है कि देश को जोड़े रखने की ताकत केवल नरेंद्र मोदी में है. सारी दुनिया ने देख लिया कि मोदी पहले किसी को छेड़ते नहीं हैं और कोई...

मनमोहन सिंह को चुनाव लड़ाने की तैयारी

राहुल गांधी पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को भी चुनाव मैदान में उतारना चाहते हैं. उन्हें अमृतसर से चुनाव लड़ाया जा सकता है. इस खबर से भाजपा को भी वहां से कोई मजबूत उम्मीदवार उतारने के लिए विचार करना...

टकराव में रिसती कड़वाहट

सत्ता और सियासत के बीच छिडऩे वाली जंग कभी खत्म नहीं होती. गाहे-बगाहे टीस सांकेतिक रूप से उफनती रहती है और नाजुक मौकों पर पार्टी को डुबोने का काम करती है. यह समझने के बजाय समझाने के सियासी स्वाइन फ्लू...

सियासी गुत्थियों में उलझी कांग्रेस

पटना में रैली करने के पीछे कांग्रेस के दो खास मकसद थे. पहला यह कि पार्टी के  जमीनी नेता-कार्यकर्ता संगठन को मजबूत बनाने के लिए आगे आएं. दूसरा यह कि राज्य में मौजूदा सहयोगी दल उसकी बढ़ती ताकत को नजरअंद...

भागवत ने की कांग्रेस की तारीफ

ओपिनियन पोस्‍ट। राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ यानी आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत ने आमतौर पर आलोचनाओं से घिरी रहने वाली पार्टी कांग्रेस की तारीफ कर दी है। उन्‍होंने कहा है कि कांग्रेस की बदौलत ही देश की स्वतंत...

…तो जेएनयू से तय होगा मोदी सरकार रहेगी या जाएगी

अजय विद्युत। शुरू से वामपंथी दबदबे वाले जेएनयू के छात्र संघ चुनाव में फिर से वामपंथी उम्मीदवारों की जीत को लेकर मीडिया में ऐसा माहौल बना दिया गया है मानो वह अगले साल देश से मोदी सरकार की विदाई का गीत...

×