2019 Loksabha Election

2019 Loksabha Election

गठबंधन पर भारी पड़ी भाजपा

देश के सबसे बड़े सूबे उत्तर प्रदेश की जनता ने लोकसभा चुनाव में ८० में से ६२ सीटों पर भाजपा को जीत दिलाकर ऐलानिया साफ किया है कि मौसमी-मौकापरस्त सियासी जोड़-तोड़ के लिए उसके दिल में कोई जगह नहीं है. या...

किसी की राह आसान नहीं

वामपंथ को उखाड़ कर समाजवाद स्थापित करने वाले मगध की जहानाबाद संसदीय सीट काफी ‘हॉट’ मानी जाती है. यूं तो राज्य में कई लोकसभा क्षेत्र भूमिहार बहुल हैं, लेकिन भूमिहार राजनीति का पैमाना नापने का थर्मामीटर...

लोकतंत्र को निराश करने वाला चुनाव

2019 का लोकसभा चुनाव इतिहास के पन्नों में मोदी केंद्रित यानी मोदी बनाम मोदी विरोधियों के बीच हुए चुनाव के रूप में दर्ज होगा. इस चुनाव में जनता से जुड़े सवाल गायब रहे, आम जन की समस्याओं पर कोई चर्चा नह...

राहुल के खिलाफ कांग्रेसी साजिश!

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान कांग्रेस के भीतर दो महत्वपूर्ण फैसले लिए गए. पहला फैसला प्रियंका गांधी को सक्रिय राजनीति में लाने का था. कांग्रेस के कई नेता प्रियंका को सक्रिय राजनीति में लाने और उन्हें को...

पीएम बनने के लिए केंद्रीय मंत्री का षड्यंत्र

राजनीति का खेल भी अजीबोगरीब है. पूरे देश में हर पार्टी चुनाव प्रचार में जुटी है और ज्यादा से ज्यादा सीटें जीतने की कोशिश कर रही है. लेकिन, हर पार्टी के भीतर भी कांटे की भिडं़त जारी है. दुनिया के सामने...

केंद्रीय कृषि मंत्री की साख दांव पर

वर्ष 2002 में परिसीमन के बाद मोतिहारी लोकसभा पूर्वी चम्पारण लोकसभा के नाम से जाना जाता है. 1989 मे भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष राधामोहन सिंह को भाजपा ने चुनावी समर में उतारा. उन्हें जीत...

बिहार चुनाव : किसी की राह आसान नहीं

एनडीए और महागठबंधन के नेता एक-दूसरे पर नाकामी के आरोप लगा रहे हैं. वहीं आम जनता अपना फैसला खुद करने की बात कहकर उम्मीदवारों को ‘खबरदार’ कर रही है. सबसे सुखद बात यह है कि इस बार शहर से लेकर गांव तक लोग...

बुद्धिजीवी वर्ग मोदी के साथ

वक्त बदलता है, धारणाएं बदलती हैं. बात बहुत पुरानी नहीं है, 2014 के चुनाव से पहले नरेंद्र मोदी को भाजपा प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करने जा रही थी, उस समय अकादमिक जगत ने उनकी उम्मीदवारी के खिलाफ...

300 पार मोदी सरकार : ओपिनियन पोल

लोकसभा चुनाव 2019 आजाद भारत के इतिहास का सबसे जटिल और महत्वपूर्ण चुनाव साबित होने जा रहा है. 2014 के चुनाव से पहले न तो किसी सर्वे और न किसी राजनीतिक विश्लेषक ने यह अनुमान लगाया था कि भारतीय जनता पार्...

×