बाबू जगजीवन राम

जदयू के आधार वोटर होंगे निर्णायक

सासाराम सुरक्षित संसदीय सीट पर आजादी से लेकर साल 1986 तक बाबू जगजीवन राम का आधिपत्य रहा. हाल यह था कि चुनाव में उनके खिलाफ  सारे जातीय समीकरण धरे के धरे रह जाते थे. चाहे वह कांग्रेस के टिकट पर मैदान म...

×