जियो के अक्रामक संकेत, स्पेक्ट्रम बिक्री 1 अक्टूबर से

रिलायंस जियो इन्फोकॉम स्पेक्ट्रम में अक्रामकता के संकेत दे दिए हैं। जियो ने स्पेक्ट्रम बयाने के रूप में करीब 6,500 करोड़ रुपये जमा करवा दिए। यह राशि एयरटेल, वोडाफोन और आइडिया, टॉप तीनों कंपनियों की जमा की गई राशि के करीब बराबर है। यानी, 1 अक्टूबर से शुरू हो रहे स्पेक्ट्रम नीलामी के प्रति मुकेश अंबानी के मालिकाना हक वाली कंपनी का इरादा आक्रमक है।

बताया जा रहा कि भारती एयरटेल ने करीब 1,980 करोड़ रुपये, वोडाफोन इंडिया ने करीब 2,745 करोड़ रुपये और आइडिया सेल्युलर ने करीब 2,050 करोड़ रुपये जमा कराए हैं। उन्होंने बताया कि टाटा टेलिसर्विसेज ने भी 1,000 करोड़ रुपये जमा कराए हैं जबकि रिलायंस कम्यूनिकेशंस और एयरसेल ने करीब 313 करोड़ और 120 करोड़ रुपये जमा कराए हैं।

नीलामी को लेकर जियो के रवैये से इंडस्ट्री हैरान है क्योंकि सबका अनुमान था कि कंपनी इस बार जियो बहुत आक्रमक बोली नहीं लगाकर सिर्फ कवरेज गैप को भरेगा। ऐसा इसलिए क्योंकि हालिया नीलामी में जियो पर्याप्त क्षमता हासिल कर चुका है।

×