न्यूज फ्लैश

‘मोदी जी अपने चमचों को रोकिए मेरे परिवार पर कचरा न फेंके, जाँच करवाओं, गलत हूँ तो मुझे जेल भेजो’ … राहुल गांधी

पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की जयंती पर कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी का संघ और मोदी पर निशाना

नई दिल्ली । कांग्रेस के वाइस प्रेसिडेंट राहुल गांधी ने पीएम मोदी को चैलेंज देते हुए कहा है कि मोदी सरकार उन पर आरोप लगाने के बजाए उनकी 6 महीने में जांच कराए और उनके खिलाफ कुछ भी मिले तो उन्हें गिरफ्तार कर लिया जाए। राहुल गांधी ने यह चुनौती पूर्व पीएम इंदिरा गांधी के 98 वीं जयंती के मौके पर आयोजित यूथ कांग्रेस के एक प्रोग्राम के दौरान दी। इस दौरान राहुल गांधी ने आरएसएस की तुलना बैन किए जा चुके मुस्लिम संगठन सिमी से की। बता दें कि बीजेपी नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कुछ दिनों पहले दावा किया था कि राहुल गांधी के पास ब्रिटिश पासपोर्ट है।
राहुल ने कहा, ‘मोदी जी आपकी सरकार है। आप के पास एजेंसियां है। आप मेरे खिलाफ इन्वेस्टिगेशन करो और कुछ मिले तो 6 महीने के भीतर मुझे गिरफ्तार करो। ये जो आप मेरे ऊपर मेरे परिवार के ऊपर पर कचरा फेंकते हो ये ठीक नहीं है।’ उन्होंने कहा, ‘मैं मोदी जी से जरा-सा भी नहीं डरता, वो आरोप लगाकर मुझे रोकना चाहते हैं, लेकिन मैं किसानों के लिए लड़ूंगा, गरीबों के लिए लडूंगा और हिंदुस्तान के लिए लड़ता रहूंगा।”
राहुल गांधी ने कहा, ‘मोदी जी और उनके तमाम नेता कहते हैं कि कांग्रेस के मात्र 44 सांसद हैं। सांसदों की गिनती से नहीं, फर्क पड़ता है सोच से।’ उन्होंने कहा कि हमारी सोच गरीबी, किसानों और मजदूरों के हक की लड़ाई लड़ने की है।
पूर्व पीएम इंदिरा गांधी के 98 वीं जयंती के मौके पर हुए कार्यक्रम में राहुल जब कांग्रेस को कमजोर और गरीबों की लड़ाई लड़ने वाली पार्टी बता रहे थे तो मंच के पास ही एक युवा नेता ने खुद को कमजोर बताते हुए राहुल गांधी से गरीबों की लड़ाई लड़ने को कहा। उसने कहा, ‘मैं कमजोर हूं आप मेरी लड़ाई लड़िए।’ जिसके बाद राहुल ने उसे मंच पर बुलाया और अपने पास बैठा लिया।
कार्यक्रम के दौरान बिहार चुनाव में मिली जीत का जिक्र करते हुए राहुल ने कहा, ‘वहां हमारे सीनियर लीडर गुलाम नबी आजाद और सीपी जोशी काम कर रहे थे। उन्हें चुनाव लड़ने का एक्सपीरियंस है। यूथ कांग्रेस के लोगों ने चुनाव में काम किया उनमें जोश था।’ राहुल ने कहा कि मैं इस एक्सपीरियंस और जोश को जोड़ना चाहता हूं, एक साथ लाना चाहता हूं ताकि कांग्रेस गरीबों और मजदूरों की लड़ाई लड़ सके। राहुल ने कहा कि हम जोड़ने की राजनीति करते हैं और वो तोड़ने की राजनीति करते हैं। उन्होने कहा कि हमारे पास बीजेपी और आरएसएस का विरोध करने के कई कारण हैं। भाषण के बीच में उन्होंने इंदिरा गांधी का भी जिक्र किया।
सिटीजनशिप के मुद्दे पर पीएम को कार्रवाई कर खुद को गिरफ्तार करने की चुनौती देने वाली राहुल गांधी के बयान पर बीजेपी ने रिएक्शन दिया है। बीजेपी नेता शाहनवाज हुसैन ने कहा कि राहुल गांधी को इस मामले में पीएम को चुनौती देने की जरूरत नहीं है, मामले की जांच चल रही । उन्होने कहा कि जांच में जो भी सामने आएगा उसके मुताबिक कार्रवाई की जाएगी।
राहुल गांधी की सिटीजनशिप का मुद्दा सामने लाने वाले बीजेपी नेता सुब्रह्मण्यम स्वामी ने राहुल गांधी को चुनौती दी है। उन्होंने कहा है कि मामले की जांच चल रही है जिसमें उनकी मर्जी से कुछ नहीं होगा। उन्हें तब पता चलेगा जब पुलिस आकर उन्हें उठाकर ले जाएगी। स्वामी ने कहा कि राहुल उनके दो सवालों का जवाब दे दें तो सब अपने आप ही साफ हो जाएगी। उन्होंने कहा कि उन्होंने ब्रिटेऩ में कंपनी खोली जिसके कंपनी सेक्रेटरी रहे और कई कागजातों पर उनके साइन हैं। भारत के कानून के मुताबिक वे ऐसा नहीं कर सकते। दूसरा कंपनी खोलने के लिए न तो फेमा से परमीशन ली न फॉरेन एक्सचेंज के लिए फेरा को बताया, उन्होंने अपने एफिडेविट में इसका जिक्र क्यों नहीं किया और लगातार कई सालों तक इस बात को क्यों छुपा कर रखा।

Leave a comment

Your email address will not be published.

*