न्यूज फ्लैश

माहिरा ने सिगरेट पी …धुआं, पूरे पाकिस्तान में उठा

निशा शर्मा।

माहिरा खान ने सिगरेट पी है… इस समय पाकिस्तान में यह बड़ा मुद्दा ही नहीं कईं अखबारों की हेडलाइन भी है। लोग इसके पक्ष और विपक्ष में लिख रहे हैं। सोशल मीडिया में पाकिस्तान में यह मुद्दा बुधवार से ट्रेंड कर रहा है। क्योंकि पाकिस्तान के लोंगो के मुताबिक एक महिला ने सिगरेट पी है, और वो महिला अभिनेत्री ही नहीं पाकिस्तान की इज्जत भी है।

mahira-ranbir

पाकिस्तान में लड़कियां देश की इज्जत और गरिमा तभी होती हैं जब वह नकाब ओढ़े रखें और मुंह से कुछ ना बोलें…जैसे ही वह अपनी आजादी की बात करती हैं..देश की इज्जत से खिलवाड़ होना शुरु हो जाता है। ऐसा ही अगर वह सिगरेट पी लें तो देश की इज्जत, गरिमा खत्म हो जाती है। ऐसा वहां के इज्जतदारों, वहां के जाने-माने लोगों का कहना है।

एक महिला ने सोशल मीडिया पर लिखा- “माहिरा दोबारा सिगरेट पीती पकड़ी गई हैं। तीन बार तलाक ले चुकी, चेन स्मोकर और भ्रष्ट महिला आज के दौर में हमारी सेलिब्रिटी और रोल मॉडल है। हमें अपने स्तर को थोड़ा बढ़ाना चाहिए।” शायद ये महिला भूल गईं कि माहिरा के सिगरेट पीने से इनके देश का स्टैंडर्ड गिरता है तो माहिरा ने उस देश का स्तर कई प्रतियोगिताओं में खुद को अव्वल रख कर उठाया भी है।

mahi

 

हालांकि उस देश की इज्जत या गरिमा तब खत्म नहीं होती जब वहां के पुरुष धूम्रपान करते हैं, शराब पीते हैं, गुटखा खाते हैं। एक रिपोर्ट के मुताबिक पाकिस्तान में 15.6 मिलियन आबादी गुटखा खाती है यानी कि देश की 7.77 प्रतिशत आबादी इस खराब लत से ग्रसित है। इस आबादी में अस्सी प्रतिशत पुरुष हैं। पर ऐसे आंकड़ों से इस देश में कुछ नहीं होता है, क्योंकि वहां महिलाओं के लिए घेरे बनाने वाले अधिकतर पुरुष हैं। पुरुष वह कुछ भी कर सकते हैं। वह धर्म के, कानून के उस देश के ठेकेदार हैं जहां महिलाओं को अपनी मर्जी से कुछ भी करने की इजाजत नहीं है।

mahiraa

इस देश में लड़कियों के साथ हुई बदसलूकी से देश की इज्जत कम नहीं होती, जब वहां कम उम्र की लड़कियों को प्रताड़ित किया जाता है, तलाक दिए जाते हैं, सेक्चुअली हैरेस किया जाता है, उन्हें घरेलू हिंसा का सामना करना पड़ता है, सरेआम उठा लिया जाता है…उन्हें ऑनर किलिंग के नाम पर मारा जाता है…तब इस देश का सम्मान कम नहीं होता बल्कि ऊंचा होता है क्योंकि कई सालों से इन सब मुद्दों पर सिर्फ उस देश में कानून बन रहे हैं लेकिन लागू नहीं हो रहे। ऐसे मुद्दे कभी सोशल मीडिया में जगह भी नहीं ले पाते। दरवाजों के अंदर चीखों में या तो मर जाते हैं या घोट दिए जाते हैं। ताकि किसी दूसरे मुल्क तक उनकी आवाज़ ना पहुंच सके। आवाज़ सिर्फ ऐसे मुद्दों की पहुंचती है जहां इस देश कि लड़कियों ने सिगरेट पीकर उनकी खोखली इज्जत को नीलाम किया होता है।

Mahira-Khan-

माहिरा खान का एक वीडियो बुधवार ट्रेंज करने लगा। लक्स स्टाइल अवार्ड्स में सिगरेट पीती माहिरा खान का यह वीडियो 20 फरवरी, 2018 का है जो 28 मार्च 2018 को सामने आया। उसके बाद पाकिस्तान की इज्जत लुटने लगी। कुछ पुरुषों ने सोशल मीडिया पर लिखा कि माहिरा को खुलेआम सिगरेट नहीं पीनी चाहिए क्योंकि वह एक रोल मॉडल हैं।

इस देश का सम्मान तब खतरे में आ जाता है जब एक महिला अपनी मर्जी से सिगरेट पीती है। पुराने आंकड़ों के मुताबिक पाकिस्तान में 46% पुरुष और 5.7% महिलाएं धूम्रपान करती हैं। यानी देश के करीब आधा प्रतिशत पुरुष धूम्रपान करते हैं। लेकिन इस पर कभी सवाल नहीं उठता। तब कोई किसी को स्वास्थय कि दुहाई देता नजर नहीं आता। क्योंकि बात अधिकारों की नहीं बात पुरुषप्रधान देश की है। ऐसे पुरुषप्रधान देश की जहां एक जाना-माना क्रिकेटर-राजनेता तीन शादियां कर सकता है लेकिन एक अभिनेत्री एक तलाक नहीं दे सकती। अगर कोई अभिनेत्री रोल मॉडल है तो क्या उसकी कोई निजी जिन्दगी नहीं है, उसकी निजी जिन्दगी पर कमेंट करने का किसके पास हक है…और क्यों है। सिर्फ इसलिए कि वह अभिनेत्री है या महिला है इसलिए…

The following two tabs change content below.
ओपिनियन पोस्ट

ओपिनियन पोस्ट

ओपिनियन पोस्ट एक राष्ट्रीय पत्रिका है जिसका उद्देश्य सही और सबकी खबर देना है। राजनीति घटनाओं की विश्वसनीय कवरेज हमारी विशेषज्ञता है। हमारी कोशिश लोगों तक पहुंचने और उन्हें खबरें पहुंचाने की है। इसीलिए हमारा प्रयास जमीन से जुड़ी पत्रकारिता करना है। जीवंत और भरोसमंद रिपोर्टिंग हमारी विशेषता है।
ओपिनियन पोस्ट
About ओपिनियन पोस्ट (3808 Articles)
ओपिनियन पोस्ट एक राष्ट्रीय पत्रिका है जिसका उद्देश्य सही और सबकी खबर देना है। राजनीति घटनाओं की विश्वसनीय कवरेज हमारी विशेषज्ञता है। हमारी कोशिश लोगों तक पहुंचने और उन्हें खबरें पहुंचाने की है। इसीलिए हमारा प्रयास जमीन से जुड़ी पत्रकारिता करना है। जीवंत और भरोसमंद रिपोर्टिंग हमारी विशेषता है।

Leave a comment

Your email address will not be published.

*