न्यूज फ्लैश

लश्कर कमांडर जुनैद मट्टू ढेर

सेना और पुलिस के संयुक्त अभियान में मिली बड़ी कामयाबी, जुनैद पर 10 लाख रुपये का इनाम

श्रीनगर।

बुरहान वानी और सबजार जैसे बड़े आतंकियों के खात्‍मे के बाद भारतीय सुरक्षा बलों को एक और बड़ी कामयाबी मिली है। सेना और पुलिस के संयुक्‍त अभियान में कश्‍मीर का दूसरा बुरहान वानी कहे जाने वाले खतरनाक आतंकी लश्कर कमांडर जुनैद मट्टू को ढेर कर दिया गया है। उस पर 10 लाख रुपये का इनाम है, जो पहले भी सुरक्षाबलों के हाथों से बचकर भागता रहा है। जुनैद ने 20 साल की उम्र से ही आतंक की दुनिया में कदम रख दिया था।

दक्षिणी कश्मीर के अनंतनाग जिला स्थित अरवनी गांव में शुक्रवार सुबह ही मट्टू को घेर लिया गया था। आर्मी ने दो आतंकियों को मौत के घाट उतारा है। दूसरे आतंकी का नाम मुज़मिल बताया जा रहा है। लेकिन जुनैद खतरनाक आतंकियों में गिना जाता है। सुरक्षाबल को लंबे समय से उसकी तलाश थी।

सेना, पुलिस और सीआरपीएफ के जवानों ने खुफिया जानकारी के आधार पर शुक्रवार सुबह ऑपरेशन चलाया और अरवनी गांव को चारों तरफ से घेर लिया। इस मौके पर गांव के कुछ लोगों ने सुरक्षा बलों की कार्रवाई का विरोध किया और पत्थरबाजी भी की।

बता दें कि बृहस्‍पतिवार को पुलिस पर दो अलग-अलग आतंकी हमलों में दो पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे। श्रीनगर के हैदरपुरा इलाके में पुलिस टीम पर हुए आतंकी हमले में सज्जाद नाम का पुलिसकर्मी शहीद हो गया था। हैदरपुरा में आतंकियों ने पुलिस दल पर गोलीबारी की जिससे दो पुलिसकर्मी घायल हो गए थे, इनमें से सज्जाद ने दम तोड़ दिया। कुलगाम जिले में भी आतंकियों ने एक पुलिसकर्मी पर गोली चलाई जिससे उनकी मौत हो गई।

जम्मू और कश्मीर के अनंतनाग में तीन आतंकियों को सुरक्षाबलों ने घेर लिया था। फिलहाल सुरक्षाबलों की आतंकियों से मुठभेड़ जारी है। आतंकियों की ओर से लगातार फायरिंग की जा रही है। मुठभेड़ कुलगाम के अरवानी गांव के ईदगाह मोहल्ले में चल रही है। यहां एक इमारत में तीनों आतंकियों के छिपे होने के कारण सेना ने इमारत को ढहा दिया।

उधर, जम्मू कश्मीर के श्रीनगर के बाहरी इलाके रंगरेथ क्षेत्र में पथराव कर रही भीड़ पर सुरक्षा बलों की गोलीबारी में बृहस्‍पतिवार को देर रात 22 वर्षीय युवक की मौत हो गई। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि रंगरेथ में युवकों के एक समूह ने सुरक्षा बलों के वाहनों पर पथराव किया।

सुरक्षा बलों ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए गोलियां चलाईं जिसमें एक व्यक्ति जख्मी हो गया। अधिकारी ने बताया कि नजीर अहमद को गंभीर हालत में सौरा के एसकेआईएमएस अस्पताल ले जाया गया,  जहां 15-16 जून की दरमियानी रात को उसने दम तोड़ दिया।

The following two tabs change content below.
ओपिनियन पोस्ट

ओपिनियन पोस्ट

ओपिनियन पोस्ट एक राष्ट्रीय पत्रिका है जिसका उद्देश्य सही और सबकी खबर देना है। राजनीति घटनाओं की विश्वसनीय कवरेज हमारी विशेषज्ञता है। हमारी कोशिश लोगों तक पहुंचने और उन्हें खबरें पहुंचाने की है। इसीलिए हमारा प्रयास जमीन से जुड़ी पत्रकारिता करना है। जीवंत और भरोसमंद रिपोर्टिंग हमारी विशेषता है।
ओपिनियन पोस्ट
About ओपिनियन पोस्ट (4574 Articles)
ओपिनियन पोस्ट एक राष्ट्रीय पत्रिका है जिसका उद्देश्य सही और सबकी खबर देना है। राजनीति घटनाओं की विश्वसनीय कवरेज हमारी विशेषज्ञता है। हमारी कोशिश लोगों तक पहुंचने और उन्हें खबरें पहुंचाने की है। इसीलिए हमारा प्रयास जमीन से जुड़ी पत्रकारिता करना है। जीवंत और भरोसमंद रिपोर्टिंग हमारी विशेषता है।

Leave a comment

Your email address will not be published.


*