पीवी सिंधु, साक्षी मलिक, दीपा कर्मकार और जीतू राय को खेल रत्‍न पुरस्‍कार

नई दिल्‍ली। रियो ओलिंपिक में शानदार खेल का प्रदर्शन करने वाले चार एथलीटों पीवी सिंधु (बैडमिंटन), दीपा कर्मकार (जिमनास्टिक्‍स), साक्षी मलिक (कुश्‍ती) और जीतू राय (शूटिंग) को सरकार ने 2016 के राजीव गांधी खेल रत्‍न पुरस्‍कार देने की घोषणा की है। पीवी सिंधु ने बैडमिंटन में रजत पदक हासिल किया है। यह उपलब्धि हासिल करने वाली वह पहली भारतीय महिला हैं। इसी तरह साक्षी मलिक ने 58 किलोग्राम फ्रीस्‍टाइल कुश्‍ती में कांस्‍य पदक जीता। वह यह उपलब्धि हासिल करने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान हैं। दीपा कर्मकार ने जिमनास्टिक की सबसे कठिन प्रॉडुनोवा स्‍पर्द्धा में चौथा स्‍थान हासिल किया। वह कुछ ही अंकों के अंतर से कांस्‍य हासिल करने से चूक गईं लेकिन उन्‍होंने अपने खेल से लोगों का दिल जीत लिया। जीतू राय ने शूटिंग में बेहतरीन प्रदर्शन किया।

इसके अलावा कोचिंग के लिए दिए जाने वाले द्रोणाचार्य अवार्ड में जिमनास्टिक्‍स में दीपा कर्मकार के कोच बिश्‍वेश्‍वर (बीएस) नंदी को चुना गया। क्रिकेटर विराट कोहली के कोच राजकुमार शर्मा को द्रोणाचार्य पुरस्‍कार दिया जाएगा। महाबीर सिंह को कुश्‍ती (लाइफटाइम) के लिए द्रोणाचार्य पुरस्‍कार दिया जाएगा। कुल छह कोच को यह पुरस्‍कार दिया जाएगा।

कुल 15 खिलाडि़यों को अर्जुन पुरस्‍कार दिया जाएगा। यह पुरस्‍कार पाने वालों में रियो ओलंपिक में बेहतरीन खेल दिखाने वाली ललिता बाबर (एथलेटिक्‍स), क्रिकेटर अजिंक्‍य रहाणे, शिव थापा (बॉक्सिंग) शामिल हैं। कुल तीन शख्सियतों को ध्‍यानचंद पुरस्‍कार दिया जाएगा। इनमें सत्‍ती गीता (एथलेटिक्‍स), सिल्‍वेनस डुंग डुंग (हॉकी) , राजेंद्र प्रसाद शेल्‍के (रोविंग) हैं।

29 अगस्‍त को इन लोगों को राष्‍ट्रपति ये पुरस्‍कार वितरित करेंगे। उल्‍लेखनीय है कि राजीव गांधी खेल रत्‍न पुरस्‍कार पाने वाले खिलाडि़यों को पदक और प्रशस्ति पत्र के साथ 7.5 लाख रुपये और अर्जुन, द्रोणाचार्य और ध्‍यान चंद पुरस्‍कार पाने वालों को 5 लाख रुपये पुरस्‍कार के रूप में दिए जाते हैं।

×