न्यूज फ्लैश

कनेक्टिविटी सुधारने के लिए जियो को चाहिए 90 दिन और

यानी जहां नेटवर्क नहीं पकड़ता वहां लोगों का तीन महीने का नया रिचार्ज गया पानी में

 

अजय विद्युत

अभी भी देश के कई क्षेत्रों में जियो का नेटवर्क ठीक से काम नहीं कर रहा है। दिल्ली एनसीआर के ही कई इलाके ऐसे हैं जहां जियो के नेटवर्क से बात कर पाना काफी मुश्किल है और नेट भी कभी कभार ही चल पाता है। तमाम उपभोक्ताओं ने इस उम्मीद में कि कंपनी नेटवर्क जल्द सुधार लेगी इसी महीने 399 रुपये देकर तीन महीने के लिए फोन रिचार्ज करा लिया।

कंपनी की तरफ से एक ही प्रकार का लिखित जवाब मैसेज द्वारा दिया जा रहा है

कंपनी की तरफ से एक ही प्रकार का लिखित जवाब मैसेज द्वारा दिया जा रहा है

जियो कस्टमर केयर से कनेक्टिविटी की समस्या को लेकर शिकायत करने पर कंपनी के कर्मचारी उपभोक्ताओं से उनका क्षेत्र, मकान नंबर, वहां का पिनकोड और आसपास कोई लैंडमार्क पूछते हैं। इसके बाद कंपनी की तरफ से एक ही प्रकार का लिखित जवाब मैसेज द्वारा दिया जा रहा है। उसका आशय यह है कि ‘आपकी शिकायत पर हम ध्यान दे रहे हैं। आपके क्षेत्र में जियो साइट लगाने की योजना बनाई जा रही है। यह साइट 90 दिन में चालू हो जाएगी। उसके बाद आप निर्बाध फोरजी नेटवर्क इस्तेमाल कर पाएंगे।’

कंपनी के इस जवाब से खराब कनेक्टिविटी की मार झेल रहे और हाल में फोन को तीन महीने के लिए 399 रुपये देकर दोबारा रिचार्ज करा चुके जियो के मौजूदा उपभोक्ता खुद को ठगा महसूस कर रहे हैं। उपभोक्ताओं का कहना है कि इस सूरत में कंपनी को लोगों का तीन महीने के रिचार्ज का जमा कराया पैसा वापस करना चाहिए।

जियोफोन की दीवानगी

दूसरी तरफ पूरे देश में जियोफोन को लेकर उत्सुकता है। जिन्होंने पांच सौ रुपये देकर इसे प्रीबुक करा लिया है वे सितम्बर में इसकी डिलीवरी की प्रतीक्षा कर रहे हैं। डिलीवरी के वक्त एक हजार रुपये और देने होंगे। इस तरह हालांकि फोन 1500 रुपये देने पर ही उपलब्ध हो सकेगा लेकिन इसका प्रभावी मूल्य शून्य बताया जा रहा है। इस फोरजी फोन को कंपनी ने इंडिया का स्मार्टफोन टैगलाइन से जारी किया है। कंपनी ने घोषणा की है कि अगर तीन साल बाद उपभोक्ता फोन लौटाना चाहता है तो कंपनी उसे पूरी राशि लौटा देगी।

Leave a comment

Your email address will not be published.

*