पीएम का राहुल पर पलटवार, अच्छा हुआ बोल दिया, नहीं बोलते तो भूकंप आ जाता

नोटबंदी के बाद पहली बार अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंचे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नोटबंदी का विरोध कर रहे लोगों को करारा जवाब दिया है। पीएम ने राहुल गांधी पर पलटवार करते हुए कहा कि वह युवा हैं, अभी भाषण सीख रहे हैं। मोदी ने कहा कि अच्छा हुआ उन्होंने बोल दिया, नहीं बोलते तो भूकंप आ जाता।

मोदी ने राहुल गांधी के द्वारा उनपर लगाए गए भ्रष्टाचार के आरोपों की खिल्ली उड़ाते हुए कहा कि वो भाषण देने की कला सीख कर रहे हैं। बड़ी सभा में मोदी ने तंज कसते हुए कहा कि राहुल के भाषण से भूकंप आया। मोदी ने कहा कि जब से राहुल बोल रहे हैं वह काफी खुश हैं।

इसके साथ ही पीएम ने पूर्व प्रधानमंत्री मोदी ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह और पी चिदंबरम को भी जवाब दिया। कांग्रेस पार्टी को घेरते हुए पीएम ने कहा कि जब राहुल कहते हैं कि देश की बड़ी संख्या अनपढ़ है तो वो किसका रिपोर्ट कार्ड पेश कर रहे होते हैं। उन्होंने कहा कि ये 50 फीसदी गरीबी हम किसकी झेल रहे हैं? मनमोहन सिंह अपने कार्यकाल की रिपोर्ट दे रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा, ”मुझे विश्वास है देश जिन इरादों को लेकर मेरा साथ दे रहा है, हम उन इरादों पर खरे उतरेंगे। उन्होंने कहा कि देश की भलाई के लिए देश कतार में खड़ा है, मैं इनका नमन करता हूं। देश की जनता को बहुत तकलीफ हुई है, लोग 6-8 घंटे कतार खड़े रहते हैं फिर भी कहते हैं कि मोदी जी ने काम तो अच्छा किया है।”

नोटबंदी का विरोध कर रहे लोगों को करारा जवाब देते हुए मोदी ने कहा कि मैंने कभी सोचा नहीं था, देश के कुछ राजनेता और राजनीतिक दल बेईमानों के साथ खड़े हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि जब कूड़े की ढेर की सफाई करते हैं तो गंध बहुत दूर तक जाती है, आज-कल आप देख रहे होंगे ये गंध कहां-कहां फैल रही है।

×