दिल्ली में गेस्ट टीचर होंगे नियमित

दिल्ली के सरकारी स्कूलों में पढ़ाने वाले गेस्ट टीचरों के लिए केजरीवाल सरकार ने दिवाली से पहले उन्हें तोहफा दिया है। दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया के मुताबिक, सभी गेस्ट टीचरों को नियमित करने से जुड़े बिल को मंजूरी दे दी गई है। साथ ही इस बिल को जल्द विधानसभा में पेश किया जाएगा। इसके लिए 4 अक्टूबर को विशेष सत्र बुलाया गया है।

मनीष सिसोदिया ने कहा, “इस फैसले से दिल्ली के सरकारी स्कूलों के कुल 17,000 गेस्ट टीचरों में से 15,000 को फायदा मिलेगा। हालांकि, मानदंडो को पूरा न करने वाले 2,000 गेस्ट टीचर पहले की तरह ही काम करते रहेंगे।”

चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी ने उन्हें पक्का करने का वादा किया था। दिल्ली में गेस्ट टीचर्स लंबे समय से अपनी नौकरी को स्थाई करने और सैलरी बढ़ाने की मांग को लेकर आंदोलन भी कर रहे थे।

कुछ वक्त पहले दिल्ली सरकार ने 17 हजार गेस्ट टीचरों का वेतन 90 फीसदी तक बढ़ाया था। इस फैसले का फायदा सेंट्रल टीचर इलिजिबिलिटी टेस्ट (सीटीईटी) पास करने वाले टीचरों को मिलने जा रहा है।

×