कर्मचारी राज्य बीमा निगम ने मनाया अंतरराष्‍ट्रीय महिला दिवस

नई दिल्‍ली।

कर्मचारी राज्य बीमा निगम ने नई दिल्ली स्थित अपने मुख्यालय में अंतरराष्‍ट्रीय महिला दिवस मनाया। कर्मचारी राज्य बीमा निगम की वित्‍त आयुक्‍त संध्या शुक्ला ने महिला संवेदनशीलता पर भी जोर दिया और महिला सहकर्मियों को सहयोग व समर्थन दिए जाने का आग्रह किया। उन्‍होंने सभी कर्मचारियों मुख्यतः महिलाओं को शुभकामनाएँ दीं और कहा कि कर्मचारी राज्य बीमा निगम ने महिला कर्मचारियों को सशक्त बनाने में काफी योगदान दिया है।

IMD 02ESI

इस अवसर पर दिल्ली विश्वविद्यालय की सहायक प्रोफेसर डॉ. आमना मिर्ज़ा व त्वचा रोग विशेषज्ञ डॉ. दिपाली भारद्वाज अतिथि वक्ता थीं। दोनो ने महिला सशक्तीकरण, महिला संवेदनशीलता और समाज में महिलाओं द्वारा की गई उल्लेखनीय प्रगति के संबंध में अपने विचार प्रकट किए।

उन्होंने केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ, उज्जवला योजना, स्टैंड अप इंडिया आदि योजनाओं की भी सराहना की। कर्मचारी राज्य बीमा निगम ने भी बीमाकृत महिलाओं के लिए मातृत्व हितलाभ की अवधि को 12 सप्ताह से बढ़ाकर 26 सप्ताह कर दिया है।

इस अवसर पर अन्य गण्‍यमान्य व्यक्तियों में चिकित्सा आयुक्त डॉ. आर. के. कटारिया,  बीमा आयुक्त अरुण कुमार, बीमा आयुक्त ए के सिन्हा, चिकित्सा आयुक्त डॉ. पी. एल. चौधरी और चिकित्सा आयुक्त डॉ. एस. एल. विग मौजूद थे ।

कर्मचारी राज्य बीमा निगम रोजगार, चोट, बीमारी, मृत्यु आदि के समय सामाजिक सुरक्षा हितलाभ जैसे उचित चिकित्सा देखरेख और नकद हितलाभ की श्रृंखला प्रदान करने वाला एक अग्रणी सामाजिक सुरक्षा संगठन है। अभी तक 40 लाख से अधिक बीमाकृत महिलाएं योजना के अंतर्गत विभिन्न हितलाभ प्राप्त कर रही हैं।

कर्मचारी राज्य बीमा निगम के लाभार्थियों की कुल संख्या 12.40  करोड़ से अधिक है। 1952 में कर्मचारी राज्य बीमा निगम की शुरुआत से अब तक 151 अस्पताल, 1489/174 औषधालय/भारतीय चिकित्सा पद्धति इकाइयां, 815 शाखा/भुगतान कार्यालय और 63 क्षेत्रीय एवं उप क्षेत्रीय कार्यालय स्थापित किए जा चुके हैं।

×