दादरी कांड- अखलाख के घर से मिला मांस ‘गोमांस’ ही था

नई दिल्ली । दादरी के बिसहेड़ा गांव में गाय का मांस रखने के आरोप में भीड़ ने जिस मोहम्मद अखलाक नाम के शख्स की हत्या कर दी थी उसके घर में रखे फ्रिज से बरामद हुआ मांस गाय का ही था । ये खुलासा मथुरा फोरेंसिक जाँच प्रयोगशाला की तैयार की गई रिपोर्ट में हुआ है ।

lab report मथुरा की वेटरनेरी एंड एनिमल हजबेंड्री की फोरेंसिक इन्वेस्टिगेशन लैब  के हवाले से कहा गया है कि ‘सैंपल की केमिकल जांच के आधार पर यह मांस गाय या इसके बच्चे का पाया गया है।’ दरअसल,, पिछले साल जो रिपोर्ट आई थी, उसमें कहा गया था कि मांस देखने में मटन जैसा लग रहा है।

दादरी में हुए इस कांड को लेकर कोर्ट में सुनवाई जारी है। हमला करने के आरोप में गिरफ्तार विशाल राणा के केस की मंगलवार को कोर्ट में सुनवाई थी। सुनवाई के दौरान कोर्ट ने फॉरेंसिक लैब के रिपोर्ट की मांग की थी। इस मामले में दो नाबालिग समेत 8 लोगों को गिरफ्तार भी किया गया था।

गौरतलब है कि दादरी के बिसाहड़ा गांव में 28 सितम्बर की रात अफवाहें फैली थीं कि 50 साल के मुहम्मद अखलाक के घर में गौमांस रखा है। इसे लेकर उग्र हुई भीड़ ने अखलाक के घर पर धावा बोलकर उसकी और उसके परिजन की बेइंतहा पिटाई की थी, जिसके बाद अखलाक की मौत हो गयी थी और उसका 22 साल का बेटा गम्भीर रूप से घायल हो गया था।  इस मामले के बाद गौमांस का मामला गरमाया रहा और बीफ को लेकर कई हिंसक घटनाएं सामने आई।

यही वह घटना थी जिसके बाद देश में असहिष्‍णुता को लेकर जबरदस्त बहस छिड़ी और कलाकार-साहित्‍याकारों ने अवॉर्ड वापसी कैंपेन भी चलाया। इस रिपोर्ट के बाद उत्तर प्रदेश सरकार की मुश्किलें बढ़ सकती है । क्योंकि प्रदेश सरकार ने अखलाख के परिवार को पीड़ित मानकर मृतक के परिजनों को 45 लाख रुपए का मुआवजा और एक प्लाट भी दिया था ।

×