राजनीति

भाजपा और शिवसेना : मजबूरी है गठबंधन

लोकसभा चुनाव की सरगर्मी तेज होते ही शिवसेना की हेकड़ी कम हो गई है. पिछले चार सालों से भाजपा के साथ बिगड़े संबंध फिर से सुधारने के लिए उसने अपने सुर बदल लिए हैं. दोनों दल गठबंधन की डोर में बंधने को तैय...

शाह ने बढ़ाई रावत की ताकत

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने हजारों कार्यकर्ताओं की मौजूदगी में राज्य की त्रिवेंद्र रावत सरकार को सौ में पूरे सौ नंबर देते हुए अपने कामकाज के बलबूते लोकसभा चुनाव में वोट मांगने...

मर-मर गंगे

नमामि गंगे का सच हर-हर गंगे… आज भी इस उद्घोष के साथ गंगा स्नान करने वाले लोग मोक्ष पाने की कामना रखते हैं. मोक्षदायिनी गंगा सदियों से करोड़ों भारतीयों की आस्था और आजीविका का जरिया रही है. बदले म...

पार्टी छोटी, चुनौती बड़ी

महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी का दावा है कि उन्होंने लोकसभा की 48 में से 44 सीटों पर निर्णय ले लिया है. ऐसे में छोटी पार्टियों के लिए बचती हैं केवल चार सीटें. इसे लेकर स्वाभिमानी पक्ष के राजू शेट्...

एमवाई समीकरण की प्रयोगशाला बना अररिया

अररिया लोकसभा क्षेत्र को एमवाई समीकरण की प्रयोगशाला माना जाता है. वाई (यादव) अगर एम (मुस्लिम) के साथ गए, तो लालटेन जलेगी और अगर हिंदुत्व की बयार के साथ रहे, तो कमल खिलेगा. वोटों का अंकगणित उतना ही रोच...

गॉड फादर करेंगे बेड़ा पार

लोकसभा चुनाव की रणभेरी बज चुकी है. सियासी योद्धा खुद को अर्जुन के माफिक तीर-तरकश और कवच के साथ तैयार मानकर चल रहे हैं. लेकिन, चुनावी महाभारत में विजय पताका फहराने के लिए एक अदद कृष्ण की जरूरत भी सभी म...

सियासी गुत्थियों में उलझी कांग्रेस

पटना में रैली करने के पीछे कांग्रेस के दो खास मकसद थे. पहला यह कि पार्टी के  जमीनी नेता-कार्यकर्ता संगठन को मजबूत बनाने के लिए आगे आएं. दूसरा यह कि राज्य में मौजूदा सहयोगी दल उसकी बढ़ती ताकत को नजरअंद...

पीके की पॉलिटिक्स !

चुनावी रणनीतिकार से नेता बने प्रशांत किशोर अब राजनीति में भी कुछ अनोखे प्रयोग करने की जुगत में हैं. पीके लोकसभा चुनाव 2019 के परिणाम आने के बाद अपने लिए कोई महत्वपूर्ण भूमिका की तलाश में हैं. वह चाहते...

भाजपा के महारथी

भारतीय जनता पार्टी के स्टार प्रचारक तो खुद नरेंद्र मोदी और अमित शाह हैं, लेकिन पार्टी ने अगले लोकसभा चुनाव के दौरान और भी कुछ नेताओं को आगे करने की रणनीति बनाई है. ऐसे नेताओं में प्रमुख नाम हैं, शिवरा...

यूपी की नई पहचान, उन्नत खेती-मुस्कुराते किसान

  किसान ऋण मोचन योजना ऐसा हो भी क्यों न. मार्च 2017 में नई सरकार ने शपथ ग्रहण करने के बाद अपनी पहली ही कैबिनेट बैठक में अपने संकल्प-पत्र में किए गए वायदे के मुताबिक किसानों का कृषि ऋण एक लाख रुपय...

×