राजीव कुमार

राजीव कुमार

सात सीटों का संग्राम

दिल्ली की सात लोकसभा सीटों के लिए 12 मई को मतदान होना है. आंदोलन से राजनीति का सफर तय करने वाली आम आदमी पार्टी के लिए यह चुनाव काफी महत्वपूर्ण है. सात-आठ महीने बाद यहां विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. अ...

राहुल के खिलाफ कांग्रेसी साजिश!

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान कांग्रेस के भीतर दो महत्वपूर्ण फैसले लिए गए. पहला फैसला प्रियंका गांधी को सक्रिय राजनीति में लाने का था. कांग्रेस के कई नेता प्रियंका को सक्रिय राजनीति में लाने और उन्हें को...

अर्जुन के तीर से दीदी घायल

पश्चिम बंगाल में राजनीतिक समीकरण बदलने वाला है. ‘दीदी’ का किला तोडऩे के लिए भाजपा तो कोशिश कर ही रही है, लेकिन किले की दीवार के कुछ पत्थर भी बाहर निकल कर भगवा इमारत को मजबूत करने में जुटे हैं, जिससे ‘...

अंतरिक्ष युद्ध के लिए भारत तैयार

देश की बढ़ती सामरिक ताकत में एक नया अध्याय जुड़ गया है. जल, थल और नभ के बाद अब अंतरिक्ष में भी भारत ने अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया हैं. उपग्रह रोधी मिसाइल का सफल परीक्षण करके भारत ने यह साबित कर दिया...

भाजपा की राह आसान नहीं

दिल्ली की सत्ता तक पहुंचने के लिए किसी भी पार्टी को कुछ राज्यों में बेहतरीन प्रदर्शन करना जरूरी है. भाजपा को अगर फिर से सत्ता में वापसी करनी है,  तो उसे उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, पश्चिम बंगाल एवं ओ...

त्रिकोणीय मुकाबला तय

सपा और बसपा के बीच गठबंधन होने के बाद ऐसा माना जाने लगा था कि अब चुनाव भाजपा बनाम सपा-बसपा होने वाला है, लेकिन प्रियंका गांधी की सक्रियता ने राज्य की सियासत में एक नया मोड़ पैदा कर दिया है. राज्य में...

भाजपा और शिवसेना : मजबूरी है गठबंधन

लोकसभा चुनाव की सरगर्मी तेज होते ही शिवसेना की हेकड़ी कम हो गई है. पिछले चार सालों से भाजपा के साथ बिगड़े संबंध फिर से सुधारने के लिए उसने अपने सुर बदल लिए हैं. दोनों दल गठबंधन की डोर में बंधने को तैय...

प्रयागराज ये कुंभ अतुलनीय है

प्रयागराज में ऐतिहासिक कुंभ का आयोजन हो रहा है. देश-विदेश से आए असंख्य श्रद्धालुओं-पर्यटकों की मौजूदगी ने इस भव्य आयोजन को चार चांद लगा दिए हैं. आस्था और विभिन्न संस्कृतियों के इस महा-समागम को हमेशा य...

गठबंधन की गांठ में कितनी ताकत

उत्तर प्रदेश में भाजपा को चुनौती देने के लिए सपा और बसपा ने सालों पुरानी दुश्मनी को तिलांजलि देकर एक मंच पर आना स्वीकार कर लिया. अपनी राजनीतिक जमीन बचाए रखने के लिए दो घोर विरोधी दलों के बीच हुआ गठबंध...

नागरिकता संशोधन विधेयक हंगामा है क्यों बरपा…

लोकसभा की मंजूरी के बाद नागरिकता संशोधन विधेयक राज्यसभा में पेश किया जा चुका है. विधेयक के प्रावधानों को लेकर पूर्वोत्तर में हंगामा मचा हुआ है. भाजपा के कई सहयोगी दल भी उसका साथ छोड़ रहे हैं. पूर्वोत्...

×