न्यूज फ्लैश

कुपवाड़ा में एक आतंकी ढेर

आतंकियों की तलाश में सर्च ऑपरेशन पर कचमा के जंगलों में निकले थे सुरक्षाबल

नई दिल्‍ली।

जम्मू-कश्मीर में रमजान सीजफायर खत्म होने के बाद से ही सेना का ऑपरेशन जारी है। शुक्रवार को पुलवामा में सेना ने 2-3 आतंकियों को घेर लिया। सुबह भी कुपवाड़ा में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में सेना ने एक आतंकी को मार गिराया।

तलाशी अभियान के दौरान सुरक्षाबलों ने आतंकी का शव बरामद कर लिया, लेकिन मारे गए आतंकी की शिनाख्‍त नहीं हो सकी है। सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत ने कहा है- हमारा मूल उद्देश्य उन आतंकवादियों को अंजाम तक पहुंचाना है, जो कश्मीर घाटी में हिंसा और परेशानी पैदा कर रहे हैं।

सुरक्षाबलों की संयुक्‍त टीम ने इस आतंकी के कब्‍जे से एक एके-47 राइफल सहित गोली-बारूद बरामद किया है। भारतीय सेना,  सीआरपीएफ और जम्‍मू-कश्‍मीर पुलिस के स्‍पेशल ऑपरेशन ग्रुप के कमांडो मारे गए आतंकी के अन्‍य साथियों की तलाश में लगातार जंगल में तलाशी अभियान चला रहे हैं।

सुरक्षाबल के वरिष्‍ठ अधिकारी के अनुसार, सुरक्षाबलों को सूचना मिली थी कि दक्षिण कश्‍मीर के अंतर्गत आने वाले कचमा के जंगलों में आतंकी छिपे हुए हैं। यह जंगल कुपवाड़ा जिला पुलिस की जद में आता है। सूचना मिलते ही भारतीय सेना, सीआरपीएफ और जे&के पुलिस की संयुक्‍त टीम जंगलों की तरफ कूच कर गई।

जंगलों में आतंकियों की तलाश करते हुए सुरक्षाबलों की संयुक्‍त टीम शुक्रवार तड़के तुंगा टॉप से पहचाने जाने वाले इलाके में पहुंच गई। इसी बीच, आतंकियों को सुरक्षाबलों को भनक लग गई कि सुरक्षाबलों ने उन्‍हें खोज निकाला है।

उसके बाद आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर गोलियों की बौछार शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में सुरक्षाबलों की तरफ से मुंहतोड़ जवाब दिया गया। खुद को कमजोर पड़ता देख आतंकी गोलीबारी करते हुए घने जंगलों की ओर भाग गए।

आतंकियों की तरफ से गोलीबारी बंद होने के बाद सुरक्षाबलों ने मौके की तलाशी शुरू की। तलाशी के दौरान सुरक्षाबलों ने मौके से एक आतंकी का शव, एक एके-47 राइफल और गोलियां बरामद हुईं। मारे गए आतंकियों के अन्‍य साथियों की तलाश में सुरक्षाबलों की संयुक्‍त टीम ने नए सिरे से जंगल में सर्च ऑपरेशन शुरू किया है।

घाटी में सक्रिय आतंकियों को लेकर सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत ने कहा है कि हमारा मूल उद्देश्य उन आतंकवादियों को अंजाम तक पहुंचाना है, जो कश्मीर घाटी में हिंसा और परेशानी पैदा कर रहे हैं। हमारी कोशिश है कि जो लोग हथियारों से फैलाई जा रही हिंसा में शामिल नहीं है, उनके जीवन में किसी तरह की परेशानी हो।

The following two tabs change content below.
ओपिनियन पोस्ट

ओपिनियन पोस्ट

ओपिनियन पोस्ट एक राष्ट्रीय पत्रिका है जिसका उद्देश्य सही और सबकी खबर देना है। राजनीति घटनाओं की विश्वसनीय कवरेज हमारी विशेषज्ञता है। हमारी कोशिश लोगों तक पहुंचने और उन्हें खबरें पहुंचाने की है। इसीलिए हमारा प्रयास जमीन से जुड़ी पत्रकारिता करना है। जीवंत और भरोसमंद रिपोर्टिंग हमारी विशेषता है।
ओपिनियन पोस्ट
About ओपिनियन पोस्ट (4573 Articles)
ओपिनियन पोस्ट एक राष्ट्रीय पत्रिका है जिसका उद्देश्य सही और सबकी खबर देना है। राजनीति घटनाओं की विश्वसनीय कवरेज हमारी विशेषज्ञता है। हमारी कोशिश लोगों तक पहुंचने और उन्हें खबरें पहुंचाने की है। इसीलिए हमारा प्रयास जमीन से जुड़ी पत्रकारिता करना है। जीवंत और भरोसमंद रिपोर्टिंग हमारी विशेषता है।

Leave a comment

Your email address will not be published.


*