प्रत्यूषा चिल्लाती रही पर उसकी आवाज किसी ने नहीं सुनी

ओपिनियन पोस्ट
Mon, 11 Apr, 2016 11:37 AM IST

निशा शर्मा

जानी-मानी टीवी अभिनेत्री प्रत्यूषा बनर्जी की एकाएक मौत ने टीवी इंडस्ट्री को ही नहीं चौंकाया बल्कि आम लोगों को भी सोचने पर मजबूर कर दिया कि खुशदिल मानी जाने वाली इस अभिनेत्री के साथ ऐसा क्या हुआ जो उसने जिन्दगी का दामन छोड़ मौत को गले लगाना बेहतर समझा। प्रत्यूषा की मौत की जांच चल रही है। लगातार खुलासे भी हो रहे हैं। अभिनेत्री के प्रेमी राहुल राज सवालों के घेरे में हैं। लेकिन मनोवैज्ञानिक मानते हैं कि प्रत्यूषा के लिए राहुल की बनाई स्थितियां ये बयां करने के लिए काफी थी कि वो डिप्रेशन जैसे मनोरोग के ऐसे दलदल में घुस चुकी थी जहां से निकलना उसके लिए मुश्किल था।

क्या थी वो स्थितियां :

– प्रत्यूषा के व्यवहार में दिन ब दिन बदलाव आने लगा था। वो जिन्दगी से दूर मौत को अपने करीब मानने लगी थी। इसके उसने कुछ संकेत भी दिए। मौत से कुछ दिन पहले उसने अपने व्हाट्सएप स्टेट्स में लिखा ‘मर के भी मुंह ना मोड़ना’ । चुलबुली सी इस अभिनेत्री का ये स्टेट्स रिलेशनशिप की खलबली को दर्शाने में काफी था। पर किसे इल्म था कि वो मौत के इतने नजदीक जा चुकी है।

– टीवी इंडस्ट्री प्रत्यूषा की मौत से हैरान थी लेकिन प्रोड्यूसर विकास गुप्ता के मुताबिक ”मैंने प्रत्यूषा को एक रोल ऑफर किया था लेकिन वह अपनी डिस्टर्ब्ड पर्सनल लाइफ की वजह से रोल मंजूर नहीं कर रही थी। उसने खुद को सभी लोगों से अलग कर लिया था। वह परिवार से भी दूर हो चुकी थी।” ये अन्दर का अकेलापन प्रत्यूषा को दिन ब दिन खाता गया ।

READ  फिल्म में किरदार के मिजाज के मुताबिक गाने लिखे जाते हैं- गुलज़ार

– फिल्म एक्ट्रेस राखी सावंत का खुलासा कि प्रत्यूषा ने अपने नाम पर 1 करोड़ की लाइफ इन्श्योरेंस पॉलिसी करवाई थी। इसमें उन्होंने राहुल को नॉमिनी बनाया था। ये खुलासा एक ऐसा खुलासा है जो डिप्रेशन की चरम सीमा को दर्शाता है।

-प्रत्यूषा के ब्वायफ्रेंड राहुल राज सिंह के पुलिस को दिए बयान भी बताता है कि वो किस कदर अपनी परस्थितियों से लड़ रही थी। राहुल के मुताबिक प्रत्यूषा से उनकी मौत वाले दिन लड़ाई हुई थी। जिसके बाद सुबह से ही वो शराब पी रही थीं।

– एक लड़का जिसके लिए प्रत्यूषा सब कुछ छोड़ चुकी थी वो उससे दगा कर रहा था। ये जानने के बाद कि राहुल शादीशुदा है इस टीवी अभिनेत्री को ये रियलाइज हुआ कि जो लड़का उसने चुना है, वह गलत है और उसे यह रिलेशनशिप खत्म कर देना चाहिए । इसी वजह से सुसाइड से दो हफ्ते पहले से ही वह अपने एक-एक करीबी दोस्त को फोन करके बता रही थीं कि, “मुझे इस रिलेशनशिप से निकलना है, मैं बुरी तरह से फंस गई हूं।”

लेकिन ऐसा हुआ नहीं प्रत्यूषा अपने मन के अवसाद से नहीं निकल पाई। वो अपनी जिन्दगी के बदलते तरीकों से सिर्फ अपनी बात ही नहीं बता रही थी बल्कि वो मदद के लिए चिल्ला रही थी। लेकिन अफसोस कि कोई समझ नहीं पाया और प्रत्यूषा ने जिन्दगी को अलविदा कह दिया।

×