वर्ष 2019 से पहले मंदिर बनना शुरु हो जाएगा

राम मंदिर निर्माण की मांग को लेकर अयोध्या एक बार फिर गरम है। क्या अनशन उचित था?
अनशन की आवश्यकता तो तब होती जब मंदिर नहीं बनता। वर्ष 2019 से पहले ही मंदिर बनना शुरू हो जाएगा। महंत को अनशन करने की कोई जरूरत नहीं थी। भारतीय जनता पार्टी और विश्व हिंदू परिषद के तथाकथित विरोधियों ने भोले-भाले संत को बरगला कर अनशन पर बैठा दिया। मैं यह बात जोर देकर कहना चाहता हूं कि इसमें कांग्रेस, सपा और बसपा को सफलता मिलने वाली नहीं है।

क्या इसका असर पूरे देश में पड़ेगा?
राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और विश्व हिंदू परिषद अयोध्या विवाद को समाप्त करने के लिए जीतोड़ कोशिश कर रहे हैं। मैं भी खुद विवाद के समाधान में लगा हुआ हूं। मुझे पूरा भरोसा है कि शीघ्र ही अयोध्या विवाद का शांतिपूर्ण एवं सौहार्दपूर्ण समाधान होने वाला है। बिना हो-हल्ला के, बिना खून खराबे के अयोध्या विवाद का समाधान होगा। पूरी दुनिया को भारत यह संदेश देने में कामयाब होगा कि यहां हिंदू, मुस्लिम, सिख ईसाई सारे लोग एकजुटता के साथ रहते हैं।

प्रवीण तोगड़िया लगातार सरकार के खिलाफ बोल रहे हैं। क्या इसका असर लोकसभा चुनाव पर पड़ेगा?
कांग्रेस के इशारे पर प्रवीण तोगड़िया राष्ट्रीय स्वयंसेवक, भारतीय जनता पार्टी और विश्व हिंदू परिषद के खिलाफ लगातार काम कर रहे हैं। वह इन दिनों जिस काम में लगे हुए हैं उन्हें ऐसा नहीं करना चाहिए। उन्होंने संगठन में दरार पैदा करने की कोशिश की। जब वे इसमें असफल हुए तो उन्होंने नया संगठन बना लिया। जब वर्ष 2019 से पहले मंदिर निर्माण का कार्य शुरू हो जाएगा तो आखिर वे बेवजह क्यों बोल रहे हैं? उनके बोलने से लोकसभा चुनाव में भाजपापर कोई असर पड़ने वाला नहीं है।

प्रवीण तोगड़िया अयोध्या कूच की तैयारी कर रहे हैं। आगे क्या होगा?
देश में हर नागरिक को अपना काम करने का अधिकार मिला हुआ है। तोगड़िया अयोध्या कूच करने वाले हैं तो उन्हें हम कैसे रोक सकते हैं? कानून व्यवस्था को ठीक रखना सरकार का काम है। सरकार अपने बुद्धि, विवेक से सही समय पर सही निर्णय लेगी। अयोध्या में उनका कोई प्रभाव नहीं है। अभी कुछ दिन पहले अयोध्या में वे बैठक करने आए थे। बैठक में मंच पर कोई भी महत्वपूर्ण संत, विद्वान, महंत यहां तक कि संभ्रांत नागरिक भी नहीं दिखा। वह कांग्रेस के इशारे पर लोकसभा चुनाव को डिस्टर्ब करना चाहते हैं। लेकिन नरेंद्र मोदी को दूसरी बार प्रधानमंत्री बनने से कोई भी ताकत रोक नहीं पाएगी। मोदी जी ने कांग्रेस मुक्त भारत का नारा दिया है। इस बार भाजपा 325 सीट जीतकर आएगी। मोदी जी ने सबका साथ-सबका विकास प्रारूप का प्रारंभ कर दिया है। इसी फार्मूले के आधार पर अखंड भारत बनाए रखने के लिए हिंदू, मुस्लिम, सिख, ईसाई सब एक साथ मिलकर उनको ताकत दे रहे हैं जिससे नए भारत का निर्माण होगा। यह प्रक्रिया शुरू हो चुकी है।

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार पर आपकी क्या राय है?
योगी आदित्यनाथ ने सांप्रदायिक तनाव को दूर किया है। आतंकवादी शक्तियों को मुंहतोड़ जवाब दिया है। गुंडों के आतंक को समाप्त कर दिया है। अपहरण, बलात्कार, छिनैती, डकैती और फिरौती बीते दिनों की बात हो गई है। यूपी में रामराज कायम हो गया है। 

×